ग्वालियर-चंबल माफिया पैटर्न....., अवैध शराब का ट्रक रोकने पर आईएएस अफसर और नायब तहसीलदार पर हमला, 5 के खिलाफ एफआईआर दर्ज, पूर्व मंत्री का रिश्तेदार है मुख्य आरोपी सुखराम

 आशीष यादव, धार 

कुक्षी थाने के ग्राम ढोल्या व आली के बीच अवैध शराब परिवहन करते ट्रक का पीछा कर एसडीएम नवजीवन विजय पंवार और नायब तहसीलदार राजेश भिड़े पर शराब माफियाओं द्वारा हमले के मामले में कार्रवाई जारी है। पुलिस ने ट्रक जब्त कर लिया है। साथ ही दो लोगों को आरोपी भी बनाया है। इसमें आलीराजपुर के बड़े शराब तस्कर सुखराम डावर और मुकामसिंह पिता भादुसिंह का नाम आया है। बताया जा रहा है कि यह दोनों भाजपा के करीबी है। सूत्र बताते है कि मुकाम बड़े रेत कारोबारी से ताल्लुक रखते है। जबकि सुखराम का संबंध जिले के पूर्व मंत्री से है। यहीं कारण है कि बेखौफ होकर इन लोगों के द्वारा शराब का बड़े पैमाने पर परिवहन किया जा रहा था। छोटी कारों या जीप से नहीं बल्कि शराब परिवहन के लिए तीन ट्रक का इस्तेमाल किया जा रहा था। एसडीएम के हाथ एक ट्रक लगा है। प्रारंभिक तौर पर जो जानकारी सामने आई है, उसमें बताया कि ट्रक के अंदर 65 लाख रुपए की शराब थी। फिलहाल शराब को लेकर जांच की जा रही है। बताया जा रहा है कि यह शराब बड़वानी से निकली थी, जो आलीराजपुर जा रही थी।


एसडीएम पर हमला, नायब तहसीलदार के अपहरण का प्रयास

ट्रक को धार जिले से आलीराजपुर की तरफ से ले जाया जा रहा था। ट्रक को कवर करने के लिए एक ब्लैक कलर की स्कार्पियों भी चल रही थी। जब एसडीएम पंवार और नायब तहसीलदार भिड़े ट्रक का पीछा करते हुए ढोल्या व आली के बीच पहुंचे तो शराब तस्करों ने एसडीएम के काफिले पर पथराव कर दिया। नायब तहसीलदार भिड़े की जीप के कांच फोड़ दिए गए। आरोपियों ने नायब तहसीलदार भिड़े को अपनी स्कार्पियों में बैठाकर ले जाने तक की कोशिश की। हालांकि बदमाश नायब तहसीलदार को छोडक़र भाग निकले। लेकिन इस बीच टीम ने आरोपी मुकाम सिंह पिता भादुसिंह को पकडऩे में सफलता हासिल कर ली।


कमिश्नर व आईजी ग्रामीण पहुंचे

इस हादसे के बाद कमिश्नर इंदौर पवन शर्मा और आईजी ग्रामीण राकेश गुप्ता मौके पर पहुंचे है। अधिकारियों ने एसपी आदित्य प्रताप सिंह से पूरे मामले का फीडबैक लिया है। बताया जा रहा है कि सुखराम की गिरफ्तारी के लिए टीमों का गठन किया है। सुखराम पर पूर्व में भी अपहरण और मारपीट के केस दर्ज है।






लाखों रुपए की हाई रेंज शराब

आबकारी विभाग के अधिकारी यशवंत धनोरा ने बताया कि शराब की गिनती करवाई गई है कुल 855 पेटी मदिरा जप्त की गई है इसमें हाईरेंज की अंग्रेजी शराब है। इनके बेच नंबर के आधार पर हम विवेचना कर रहे हैं किस डिस्टलरी से निकली है और किस दुकान तक प्रेषित की गई थी कौन सी दुकान पर की गई थी इसकी जांच हमारे द्वारा की जा रही है शराब की कीमत लगभग से 65 लाख है।अन्य विषय पुलिस इन्वेस्टिगेशन के पार्ट हैं पुलिस के माध्यम से किया जा रहा है। इस मामले में पुलिस बता पाएगी। वही अवैध शराब तस्कर सुखराम की भूमिका के बारे में कुछ नहीं बता सकते। इसके संबंध में मुझे कोई जानकारी नहीं है । अधिकारियों पर हमला यह बहुत गंभीर घटना है पुलिस इन्वेस्टिगेशन कर रही है। मारपीट की सूचना है मेरे स्तर पर जो कार्रवाई की जाना है वह की जा रही।

टिप्पणियाँ
Popular posts
धार में आयोजित होगा देश का प्रतिष्ठित साहित्योत्सव नर्मदा साहित्य मंथन का द्वितीय सौपान भोजपर्व!
चित्र
स्वतंत्रता के अमृत महोत्सव के अवसर पर समर्थ पार्क में निवासरत पूर्व सैनिकों का किया गया सम्मान
चित्र
त्योहारों के मद्देनजर एसडीएम का चंद्रशेखर आजाद नगर में हुआ दौरा, झोलाछाप डॉक्टरों पर गिरी गाज
चित्र
Workshop under STRIDE project for e- development of BRAUSS campus held
चित्र
राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय संगोष्ठी में राष्ट्रीय संगोष्ठी में राष्ट्रीय संगोष्ठी
चित्र