पति की दूसरी पत्नी ने पहली पत्नी अपनी सौतन को सब्बल से वार कर मार डाला~ यशवंत जैन

 पति की दूसरी पत्नी ने पहली पत्नी अपनी सौतन को सब्बल से वार कर मार डाला, मार कर हुई फरार पुलिस तलाश में जुटी

अलीराजपुर। अलीराजपुर शहर से सटे सोरवा नाका के बड़ी फलिया में गुरुवार सुबह पति की दूसरी पत्नी ने पहली पत्नी अपनी सौतन को सब्बल से वार कर मार डाला दोनों के बीच आए दिन विवाद होता रहता था घटना से क्षेत्र में सनसनी फैल गई सूचना पर कोतवाली पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और शव का जिला अस्पताल में पीएम कराया आरोपित महिला घटना के बाद मौके से फरार हो गई पुलिस उसे तलाश कर रही है।

           कोतवाली पुलिस थाना की जानकारी के अनुसार फरियादी निर्मला पति जसवंत गौराना जाति सुतार उम्र 50 साल नि. तालाब फलिया अलीराजपुर हा.मु. बयडी फलिया अलीराजपुर ने गुरुवार 23 दिसम्बर 2:08 बजे बताया कि मै तालाब फलिया अलीराजपुर रहती हुँ । पिछले कुछ दिनो से अपनी बेटी रोशनी के घर बयडी फलिया अलीराजपुर रहकर उसके बच्चो की देखभाल करती हुँ। मेरी बेटी मृतिका रोशनी पति दीपक डुडवा जाति भिलाला उम्र 32 साल की शादी करीब 10 साल पहले दीपक डुडवा से हुई थी जो उसकी एक बेटी व एक बेटा है। बाद दीपक ने नूरी से दुसरी शादी कर ली। जो रोशनी और नूरी आये दिन आपस मे झगड़ती रहती है । रोशनी और नूरी दोनो बयड़ी फलिया मे ही अलग अलग मकान मे रहती है। आज सुबह से दीपक घर से कही चला गया था। जो रोशनी सुबह 9:00 बजे घर से ही चिल्ला चोट करते हुए नूरी के घर जाने लगी। मैं भी रोशनी को समझाते हुए उसके पीछे जाने लगी। नूरी के घर पहुँचने पर ये दोनो आपस मे लड़ाई करने लगी तो नूरी ने घर मे पड़ी मोटे सरीये की सांग ( सब्बल ) से रोशनी के सिर,शरीर व पैरो मे मारने लगी। मैं बीच बचाव करने गई तो मुझे भी मारने दौड़ी बाद नूरी मौके / घर से भाग गई बाद मैने रोशनी के पास जाकर देखा तो उसके सिर मे चोट लगकर खुन निकल रहा था और उसकी वही मौत हो गई थी। 

कोतवाली थाना प्रभारी शिवराम तलोरे ने बताया कि

आस पास के लोगों की सूचना पर पुलिस टीम ने शव बरामद कर पीएम के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया पुलिस के अनुसार मामला दर्ज कर जांच प्रारंभ की गई है आरोपित महिला को तलाश किया जा रहा है प्रारंभिक रूप से दो शादियों को लेकर उपजे विवाद में वारदात को अंजाम दिया है।

सूचना पर 531/21 302 भादवी शासन तर्फे

 73/21 174 जा.फौ. शासन तर्फे पुलिस थाना कोतवाली अलीराजपुर व्दारा मर्ग कायम कर जांच में लिया गया।