बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में एक और बाघ की संदिग्ध मौत

 बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में एक और बाघ की संदिग्ध मौत

उमरिया 13 अप्रैल - बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के क्षेत्र संचालक विन्सेंट रहीम ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि दिनांक 12 अप्रैल को सुबह 8.30 बजे गोबरा ताल पेट्रोलिंग कैंप के गशती श्रमिक को जनाड नदी में गोबराताल बीट के कक्ष क्रमांक 336 में बडखेरा बीट की सीमा पर, जामुन की झाड़ियों के पास एक नर बाघ का शव दिखाई दिया। उनके द्वारा सूचित किए जाने पर बीट गार्ड और परिक्षेत्र अधिकारी मानपुर मौके पर पहुंचे और सूचना सभी अधिकारियों को दी और क्षेत्र को सील किया गया। डॉग स्क्वाड को बुलाकर आसपास के क्षेत्र का परीक्षण कराया गया। मेटल डिटेक्टर से भी शव का परिक्षण कराया गया। क्षेत्र संचालक विंसेंट रहीम, प्रभारी उप संचालक स्वरूपदीक्षित, एसडीओ मानपुर अभिषेक तिवारी और एनटीसीए के प्रतिनिधियों सत्येंद्र तिवारी और सी एम खरे की उपस्थिति में वन्य जीव सहायक शल्यज्ञ डॉक्टर नितिन गुप्ता एवं मानपुर की पशु चिकित्सक डॉ द्वारा शव का परिक्षण कराया गया। शव 2 दिन से अधिक पुराना होने के कारण ज्यादा गला होना पाया गया तथापि सैंपल जांच हेतु एकत्रित किए गए।शव के शरीर पर कोई घाव या आपसी लड़ाई के चिन्ह नहीं मिले। प्रथम दृष्टया मृत्यु का कोई स्पष्ट कारण ज्ञात नहींहुआ।नर बाघ की आयु लगभग 10 वर्ष होने का अनुमान लगाया गया । शव को समस्त अवयवों सहित जलाकर पूर्णतः नष्ट किया गया।



Popular posts
अम्बेडकर विश्वविद्यालय, महू में भक्तिमयी शबरी पर कार्यक्रम का मंचन
चित्र
रामचरित्र मानस पर आधारित प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का हुआ आंबेडकर विश्वविद्यालय में आयोजन, कई महान विभूतियों ने लिया भाग
चित्र
आंबेडकर विश्वविद्यालय, महू की "बाबू जगजीवन राम पीठ" के प्रोफेसर के रूप में डॉ शैलेंद्र मणि त्रिपाठी ने किया अपना कार्यभार ग्रहण
चित्र
औद्योगिक क्षेत्र पीथमपुर के युवा तरुणाई शुभम पाराशर का जन्म दिवस मनाया गया धूमधाम से
चित्र
अम्बेडकर विश्वविद्यालय का ‘नक्सल ऑपरेशन एंड लेसन्स’ विषय पर राष्ट्रीय परिसंवाद का आयोजन
चित्र