न्यायालय से मिले स्थगन के बाद अरिबलेश डोगरे ने पुनः लिया सीएमओ का चार्ज

 ओकारेश्वर ( ललित दुबे ) नगर परिषद ओकारेश्वर मैं कलेक्टर खंडवा के निर्देश पर खंडवा नगर निगम उपायुक्त दिनेश मिश्रा को ओकारेश्वर नगर परिषद सीएमओ का प्रभार सौंपा गया था लगभग एक पखवाड़े कार्य करने के बाद उच्च न्यायालय जबलपुर मैं याचिका क्रमांक 825 / 2015 मुख्य नगरपालिका अधिकारी के कैडर में नहीं आने के कारण मध्य प्रदेश के लगभग 50 प्रभारी मुख्य नगर पालिका अधिकारियों को पद से हटाया गया था उक्त आदेश के विपरीत माननीय उच्च न्यायालय जबलपुर में प्रदेश के सभी सीएमओ ने अपना पक्ष रखने का स्थगन आदेश दिया गया था जिसकी सुनवाई माननीय उच्च न्यायालय द्वारा की गई तथा वर्तमान यथा स्थिति बनाए रखते हुए प्रदेश के सभी प्रभारी सीएमओ को यथा स्थिति किए जाने के निर्देश दिए गए इसी के तहत ओकारेश्वर नगर परिषद में प्रभारी सीएमओ अखिलेश डोंगरे को पुनः सीएमओ का प्रभार खंडवा कलेक्टर से दूरभाष पर चर्चा करने के बाद दिनेश मिश्रा उपायुक्त खंडवा द्वारा नगर परिषद ओकारेश्वर मुख्य कार्यपालन अधिकारी का प्रभार मंगलवार को दिया गया। उल्लेखनीय है कि पिछले एक पखवाड़े से खंडवा कलेक्टर के निर्देश पर प्रभारी सीएमओ का भार संभाल रहे उपायुक्त दिनेश मिश्रा के ओकारेश्वर आने पर नगर परिषद ओकारेश्वर में समस्त कर्मचारियों मैं कसावट देखी गई तथा नगर परिषद क्षेत्र के अंतर्गत नगर में दिनेश मिश्रा के आने पर व्यवस्थाओं में सुधार की उम्मीद जागी थी वर्ष 1995 से 8 अक्टूम्बर 2020 तक 37 वे सीएमओ रहे