आलीराजपुर के सोंडवा थाने के ग्राम हतवी में गांजा पकडऩे गए थी, डीएसपी व उनकी टीम, कुक्षी की सीमा से लगा है गांव

आशीष यादव, धार 

जिले के कुक्षी से लगी आलीराजपुर सीमा पर बसे ग्राम हतवी में गांजा पकडऩे गई डीएसपी व उनकी टीम का ग्रामीणों ने घेराव कर हमला कर दिया। घेराबंदी होता देख अधिकारी मौके से निकले और सुरक्षित स्थान पर लौटाने के लिए कुक्षी की तरफ आ गए। लेकिन हतवी से शुरू हुई एक अफवाह ने अधिकारियों का कुक्षी तक आना मुश्किल कर दिया।



दरअसल हतवी में गांजा तस्करों ने अफवाह फैला दी कि गांव में एक महिला अपनी टीम के साथ बच्चों को पकडऩे आई है। इस कारण हतवी समेत आसपास के अराड़ा, फीफेड़ा गांव तक यह अफवाह फैल गई। जिस रास्ते से डीएसपी और उनकी टीम कुक्षी की तरफ आ रही थी, वह पूरे रूट पर ग्रामीण डीएसपी और उनकी टीम की फीराक में खड़े थे। कुक्षी में भी सोमवार रात बच्चा चोर गैंग की सक्रियता की अफवाह ने लोगों का हुजूम सडक़ों पर उतार दिया।


लोगों ने घेरा थाना

इस अफवाह के बाद कुक्षी में लोग थाने पहुंच गए। ऐसे में थाने पर अधिकारियों को काफी समझाइश देना पड़ी। लेकिन इसके बाद भी आधे घंटे से अधिक वक्त तक लोग कुक्षी थाने पर ही जमे रहे। लंबी समझाइश के बाद लोग माने कि वह बच्चा चोर गैंग नहीं बल्कि डीएसपी आलीराजपुर और उनकी टीम थी। इसके बाद लोग घर लौटे।


डीएसपी का वाहन भी फोड़ा

इधर बताया जा रहा है कि ग्राम हितवी से कुक्षी की तरफ आते वक्त रास्ते में ग्रामीणों ने अधिकारी के वाहन पर भी पथराव किया। जगह-जगह हुए पथराव के कारण डीएसपी के वाहन के कांच फूट गए। गनीमत थी कि कोई जनहानि नहीं हुई और अधिकारी सुरक्षित अपनी टीम के साथ निकल गई। पूर्व में देश के अलग-अलग हिस्सों में बच्चा चोरी की अफवाह में मॉब लिचिंग की घटनाएं देखने को मिली है।


गांजा पकडऩे गई थी टीम

कुक्षी पुलिस के अनुसार आलीराजपुर डीएसपी और पुलिसकर्मियों की टीम गांजा पकडऩे के लिए सोंडवा थाने के ग्राम हतवी में दबिश देने के लिए गई थी। सूचना के आधार पर जब टीम मौके पर पहुंची तो बच्चा चोरी की अफवाह ने टीम की कार्रवाई बिगड़ा दी। आशंका है कि यह अफवाह गांजा तस्करों ने ही क्षेत्र में फैलाई।


कुक्षी एसडीओपी दिलीपसिंह बिलवाल ने बताया कि आलीराजपुर जिले के सोंडवा थाने के ग्राम हतवी में आलीराजपुर डीएसपी अपनी टीम के साथ दबिश देने के लिए गई थी। इस बीच बच्चा चोरी की अफवाह फैल गई। अधिकारी अपने वाहन से अराड़ा-फीफेड़ा होते हुए आ रहे थे, ग्रामीणों ने इस रूट पर आने वाले गांवों में भी सूचना कर दी। इस कारण यह अफवाह फैलती चली गई।



टिप्पणियाँ
Popular posts
पति ने उठाया खौफनाक कदम: धारदार हथियार से पत्नी की हत्या कर किया सुसाइड, जांच में जुटी पुलिस
चित्र
त्योहारों के मद्देनजर एसडीएम का चंद्रशेखर आजाद नगर में हुआ दौरा, झोलाछाप डॉक्टरों पर गिरी गाज
चित्र
कर्मसत्ता किसी को नहीं छोड़ती चाहे राजा हो या रंक --प्रिय लक्ष्णा श्री जी म सा
चित्र
मॉम्स ने बताए सर्दी से बचाव के तरीके
चित्र
ठेकेदार की लापरवाही भुगत रहे ग्रमीण, यह कैसा विकास ? ग्रामीणों को हर रोज करनी पड़ती है नाली की साफ सफाई जिम्मेदार सोए कुम्भकर्ण की नींद पानी की निकासी की व्यवस्था नहीं सड़क पर कीचड़ से निकलना तक मुश्किल गांव की सूरत बनाना तो दूर , जगह जगह पसरी गंदगी
चित्र