हमारा प्रयास है कि पंक्ति के अंतिम छोर के व्यक्ति को भी शासन की योजनाओं का लाभ मिले- सांसद दरबार

आशीष यादव, धार 

रोजगार दिवस एवं क्लस्टर विकास सम्मेलन का जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन पीजी कॉलेज के ऑडिटॉरीयम हॉल में आयोजित किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों द्वारा मॉ सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्जवल एवं माल्यार्पण कर किया गया।

कार्यकम को संबोधित करते हुए सांसद छतर सिंह दरबार ने कहा कि देष के विकास में सबसे बडा स्थान आवागमन का है। जिस क्षेत्र में आवागमन की सुविधाऐं है, वहॉ विकास निष्चित होता है। प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना से अब हर क्षेत्र में सुगम रास्ते है। हमारा प्रयास है कि पंक्ति के अंतिम छोर के व्यक्ति को भी शासन की योजनाओं का लाभ मिले। इन मेलो को माध्यम से हमारा प्रयास है कि हम अधिक से अधिक लोगों को रोजगार से जोेडे। जिससे वे स्वयं अत्मनिर्भर हो और दूसरो को भी रोजगार के अवसर दे सके।

विधायक श्रीमती नीना वर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री जी लागातार नवाचार करते है। उनके कार्य करने का जो तरीका है उससे वे व्यक्ति विकास के हर संभव प्रयास करते है। उनके कहना है कि रोजगार लेने नहीं देने वाले बने। आज इस कार्यकम के माध्यम से बहुत से स्वसहायता समूह को लाभांवित किया जाएगा। इससे अन्य महिलाओं को भी प्रेरणा लेकर स्वरोजगार में आगे आना चाहिए। कार्यक्रम में रोजगार एवं स्वरोजगार से संबंधित विभिन्न विभागों द्वारा संचालित योजनाओं में लाभांवित हितग्राहियों को संकेतिक रूप लाभ वितरण किया गया। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री जी के बुधनी कार्यक्रम का प्रसारण लोगों ने देखा और सुना।

कार्यक्रम में ग्राम जैतपुरा में 21 हेक्टेयर भूमि पर निर्मित नवीन औद्योगिक क्षेत्र के संबंध में जानकारी दी गई। नवीन औद्योगिक क्षेत्र मे अधोसंरचना विकास पश्चात् लगभग 150 इकाईयों में राशि 285 करोड़ रूपये का निवेश होकर लगभग 3600 लोगों को रोजगार उपलब्ध कराये जाने की संभावना है। इसके अतिरिक्त जिले में सरदारपुर, अमझेरा एवं ग्राम धुलसर तहसील कुक्षी, ग्राम भोइन्दा तहसील बदनावर में एमएसएमई राज्य क्लस्टर हेतु शासकीय भूमि चिन्हाकिंत की गई है शीघ्र ही क्लस्टर डेवलपमेन्ट सुनिश्चित की जा रही है। इसी प्रकार जिले के ग्राम सिघांना तहसील मनावर एवं ग्राम लुन्हेरा बुजुर्ग तहसील उमरबन में CDP-MSE के अंतर्गत क्लस्टर का निर्माण किया जाना प्रस्तावित है। इन क्लस्टर हेतु जिले में लगभग 250 लोगों ने सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग स्थापित करने की इच्छा जताई है जिसमें रूपये 360 करोड का निवेश होकर 4250 लोगों को संभावित रोजगार उपलब्ध होगा। इसी क्रम में 1 अप्रैल 2020 से अगस्त 2022 तक जले में राशि 1036.76 करोड़ का निवेश होकर 8207 लोगों को रोजगार प्राप्त हुआ है। इसके साथ ही प्रत्येक माह आयोजित होने वाले रोजगार दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया जा जिसमें विभिन्न स्वरोजगार विभागों एवं बैंको द्वारा संचालित स्वरोजगार योजनाओं के कुल 1823 प्रकरणों में राशि 2117.27 लाख का वितरण कराया गया ।

कार्यक्रम में सीईओ जिला पंचायत के एल मीणा, जनप्रतिनिधि व हितग्राही मौजूद रहे। 



टिप्पणियाँ
Popular posts
पति ने उठाया खौफनाक कदम: धारदार हथियार से पत्नी की हत्या कर किया सुसाइड, जांच में जुटी पुलिस
चित्र
त्योहारों के मद्देनजर एसडीएम का चंद्रशेखर आजाद नगर में हुआ दौरा, झोलाछाप डॉक्टरों पर गिरी गाज
चित्र
कर्मसत्ता किसी को नहीं छोड़ती चाहे राजा हो या रंक --प्रिय लक्ष्णा श्री जी म सा
चित्र
मॉम्स ने बताए सर्दी से बचाव के तरीके
चित्र
ठेकेदार की लापरवाही भुगत रहे ग्रमीण, यह कैसा विकास ? ग्रामीणों को हर रोज करनी पड़ती है नाली की साफ सफाई जिम्मेदार सोए कुम्भकर्ण की नींद पानी की निकासी की व्यवस्था नहीं सड़क पर कीचड़ से निकलना तक मुश्किल गांव की सूरत बनाना तो दूर , जगह जगह पसरी गंदगी
चित्र