सनातनी संस्कृति की धज्जियां उडाने वालों होगी कार्यवाही चाकूबाजी की घटना में आयोजककर्ता पर हुआ प्रकरण दर्ज

आशीष यादव, धार 

शहर में अनंत चतुदर्षी पर्व पर श्री चिंतामण गणपति समिति द्वारा सनातनी संस्कृति की धज्जियां उडाई गई थी इस मामले में तीन दिन बीत जाने के बाद भी किसी तरह की कोई ठोस कार्यवाही नहीं हुई है। हालांकि प्रशासनिक अधिकारियों का कहना है कि इस मामले में जल्द ही कार्यवाही होगी। बता दे परम्परा का निर्वाह करते हुए इस बार अनंत चर्तुदर्षी का पर्व बडी ही धूमधाम से मनाया गया। 12 झांकियों के कारवे के साथ ही 8 अखाडे निकाले गए थे। सभी झांकियों में धार्मिक संस्कृति की झलक देखने को मिली थी वहीं श्री चिंतामण गणेष समिति द्वारा चलित ट्राले पर फिल्मी गानों पर युवतियों को नचाया गया था। यह सिलसिला दूसरे दिन भर जारी रहा था।



बिना परमिषन के हुआ डांस

आयोजनकर्ता श्री चिंतामण गणपति समिति द्वारा झांकी की व चल समारोह की अनुमति ली गई थी लेकिन डांस को लेकर कोई अनुमति नहीं ली गई थी इनके हौंसले इतने बुलंद हो गए कि इन्होंने बीच सडक पर पूरी रात युवतियों को फिल्मी गाने में नचवाया। सूत्रों की मिली जानकारी के अनुसार डांस के दौरान युवकों में कई बार विवाद की स्थिति निर्मित हुई। वहीं दूसरे दिन इसी समिति द्वारा चाकूबाजी की घटना हो गई। अगर आला अधिकारी पहले दिन इस मामले में ध्यान देते तो दूसरे दिन चाकूबाजी की घटना नहीं होती।

चिंतामण गणपति समिति के आयोजक पर केस दर्ज

दूसरे दिन जब कृषि उपज मंडी परिसर में झांकी खडी थी इस दौरान बच्चे के झगडे को लेकर विवाद हो गया। विवाद इतना बढ गया कि इसमें चाकूबाजी की घटना भी हो गई। पुलिस के अनुसार फरियादी दीपक पिता मोहनलाल राठौर निवासी लुनियापुरा ने बताया कि नाचने के लिए लडकी बुलाई थी। रात 11ः30 बजे लडकिया स्टेज पर नाच रही थी इस दौरान दो बच्चे आपस में किसी की बात लेकर लड रहे थे इसी बात को लेकर राठौर ने दोनों बच्चों को छुडाया और स्टेज के पिछे चला गया इसके बाद आरोपी अंकित गोटिया निवासी रासमंडल आया और बोला कि मेरे भांजे को क्यों डाट रहे थे इसी बात पर अंकित ने दीपक को चाकू मार दिया। चाकू लगने से दीपक घायल हो गया जिसका उपचार इंदौर में चल रहा है। पुलिस ने इस मामले में धारा 294, 307, 506 व 34 भादवि के तहत आरोपी अंकित भाटिया व आयोजनकर्ता चिंतामण गणपति समिति के खिलाफ केस दर्ज किया।


सरकार चला रही बेटी पढाओ, बेटी बचाओ का अभियान.........कुल चुंनिदा लोग बेटियो से लगा रहे है ठुमके इन दिनों प्रदेष सरकार द्वारा वृहद स्तर पर बेटी बचाओ, बेटी पढाओ अभियान चलाया जा रहा है इसको लेकर कई योजनाएं भी चल रही है वहीं कई बार देखने में आया है कि सांस्कृतिक आयोजनों की आड में बेटियों से ठुमके लगवाए जा रहे है जो कि पूरी तरह गलत है। हाल ही में धार में भी श्री चिंतामण गणेष उत्सव समिति द्वारा पूरी रात सडकों पर प्रषासनिक के आला अधिकारियों के सामने बेटियों से ठुमके लगवाए जा रहे है। परन्तु अब तक इन ठुमके लगवाने वाले आयोजनकर्ता पर कोई ठोस कार्यवाही नही हुई है आखिरकार प्रषासनिक के अधिकारियों को किस बात का डर सता रहा है । वह समिति के सदस्यों पर इतना मेहरबान क्यों है यह अपने आप में एक प्रष्न बन चुका है।


मामला मेरे संज्ञान में नहीं था कार्यक्रम पिछले कई सालों से बिना अनुमति हो रहा है। एस डी एम से चर्चा के बाद उच्चित कार्यवाही करेंगें।

सत्यनारायण पटेल

मंडी प्रभारी धार


होगी कार्रवाई

वही आयोजक समिति पर कार्रवाई होंगी क्योंकि जो शांति समिति की बैठक में जो शासन के नियम बनाये थे उनका उल्लंघन किया गया है इसके तहत कार्रवाई की जायेगी

देवेंद्र धुर्वे सीएसपी धार

टिप्पणियाँ
Popular posts
धार में आयोजित होगा देश का प्रतिष्ठित साहित्योत्सव नर्मदा साहित्य मंथन का द्वितीय सौपान भोजपर्व!
चित्र
स्वतंत्रता के अमृत महोत्सव के अवसर पर समर्थ पार्क में निवासरत पूर्व सैनिकों का किया गया सम्मान
चित्र
त्योहारों के मद्देनजर एसडीएम का चंद्रशेखर आजाद नगर में हुआ दौरा, झोलाछाप डॉक्टरों पर गिरी गाज
चित्र
Workshop under STRIDE project for e- development of BRAUSS campus held
चित्र
राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय संगोष्ठी में राष्ट्रीय संगोष्ठी में राष्ट्रीय संगोष्ठी
चित्र