1 अक्टूबर को निकलेगी चुनरी कलश यात्रा, सभी धर्मो के लोगों की रहेगी सहभागिता

 आशीष यादव, धार 


1 अक्टूबर को निकलेगी चुनरी कलश यात्रा, सर्वधर्म के लोगों की रहेगी सहभागिता-बुुंंदेला 

यात्रा अध्यक्ष कृष्णकांत पटेल ने कहा- 15 हजार लोगों के शामिल होने का अनुमान 

सर्वधर्म-सद्भावना का संदेश लेकर करीब 18 वर्ष पहले वरिष्ठ कांग्रेस नेता स्वर्गीय मोहनसिंह बुंदेला पूर्व संसदीय कार्य मंत्री मप्र शासन ने उस दौर की परिस्थितियों को महसूस करते हुए सर्वधर्म चुनरी कलश यात्रा निकालने का संकल्प लिया था। उस दौर से निरंतर शारदेय नवरात्र पर्व पर चुनरी कलश यात्रा का आयोजन किया जाता रहा है। इस आयोजन और उसकी भावना को जिले के लोगों का भरपूर समर्थन मिला है। हजारों की संख्या में मातृशक्ति इसमें सम्मिलित होकर देवी आराधना के पर्व में सहभागिता करते हुए पूजन-अर्चन करती है। हिन्दू-मुस्लिम-सिख-बोहरा-इसाई सर्वधर्म के लोग प्रतिवर्ष की तरह इस वर्ष भी सहभागिता करेंगे और मंचों से यात्रा का स्वागत करेंगे। यह बात मंगलवार को यात्रा आयोजक कुलदीपसिंह बुंदेला ने पत्र परिषद् में कही है

सर्व समाज के कल्याण की कामना 

बुंदेला ने कहा कि शहर के सभी लोगों से निवेदन है कि अधिक से अधिक संख्या में यात्रा में सहभागिता करें। यह पहली ऐसी यात्रा है जिसमें सर्व समाज, धर्म की कल्याण की कामना को लेकर आयोजन किया जाता है। 18 वर्ष पूर्व लिया गया संकल्प श्री बुंदेला परिवार के सदस्य और उनसे जुड़े सभी स्नेहीजन मिल-जुलकर करते है। दो वर्ष कोरोना काल में इसे प्रतीकात्मक रूप से आयोजित किया गया था। इस वर्ष हजारों की संख्या में लोग शामिल होंगे। 


15 हजार लोगों की होगी सहभागिता 

पत्र परिषद् को इस वर्ष की चुनरी कलश यात्रा के अध्यक्ष कृष्णकांत पटेल तिरला ने भी संबोधित किया। उन्होंने बताया कि इस वर्ष यात्रा 1 अक्टूबर को निकाली जाएगी। शासकीय लालबाग उद्यान में एकत्रिकरण होगा। इसके पश्चात देवी गढ़ कालिका को चुुनरी अर्पित की जाएगी। करीब 7 हजार कलश बुलाए गए है। 15 हजार से अधिक लोगों की सहभागिता का अनुमान है। गांव-गांव लोगों को यात्रा में आमंत्रित करने के लिए निमंत्रण दिया जा रहा है इसके लिए सभी लोगों को अलग-अलग जिम्मेदारियां सौंपी गई है। 

लक्की चौराहा से होगी यात्रा शुरु 

आयोजक श्री बुंदेला ने बताया कि यात्रा की शुरआत न्यू लक्की चौराहा बस स्टैंड से प्रारंभ होकर पाटीदार चौराहा और घोड़ा चौपाटी से होकर लालबाग उद्यान में भव्य रूप लेकर आगे बढ़ेगी। मोहन टॉकिज, उटावद दरवाजा, जवाहर मार्ग, आनंद चौपाटी, हटवाड़ा होते हुए गढ़ कालिका माता मंदिर पहुंंचेगी। पत्र परिषद् में आयोजन समिति से जुड़े पदाधिकारीगण मौजूद थे। करीब 100 से अधिक लोगों को यात्रा को लेकर जिम्मेदारियां सौंपी गई है। पत्र परिषद् के पूर्व तैयारियों को लेकर एक समीक्षा बैठक भी संपन्न हुई। पत्र परिषद् में कमलसिंह दरबार देदला, लक्ष्मीनारायण पटेल रानीपुरा, प्रेम पाटीदार पीथमपुर,भेरूलाल मुकाती, पर्वतसिंह चौहान, पंकज लोधा, नारायण गरासिया, हरदेवसिंह जाट, शकील खान, कुलदीपसिंह डंग सहित बड़ी संख्या में पदाधिकारीगण मौजूद थे। 



टिप्पणियाँ
Popular posts
पति ने उठाया खौफनाक कदम: धारदार हथियार से पत्नी की हत्या कर किया सुसाइड, जांच में जुटी पुलिस
चित्र
त्योहारों के मद्देनजर एसडीएम का चंद्रशेखर आजाद नगर में हुआ दौरा, झोलाछाप डॉक्टरों पर गिरी गाज
चित्र
कर्मसत्ता किसी को नहीं छोड़ती चाहे राजा हो या रंक --प्रिय लक्ष्णा श्री जी म सा
चित्र
मॉम्स ने बताए सर्दी से बचाव के तरीके
चित्र
ठेकेदार की लापरवाही भुगत रहे ग्रमीण, यह कैसा विकास ? ग्रामीणों को हर रोज करनी पड़ती है नाली की साफ सफाई जिम्मेदार सोए कुम्भकर्ण की नींद पानी की निकासी की व्यवस्था नहीं सड़क पर कीचड़ से निकलना तक मुश्किल गांव की सूरत बनाना तो दूर , जगह जगह पसरी गंदगी
चित्र