राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की मालवा प्रांत की तीन दिवसीय प्रांत बैठक रतलाम में शुक्रवार सायम् हुई प्रारंभ


बैठक में मालवा प्रांत में संघ की दृष्टि से महत्वपूर्ण विषयों जैसे  कार्य-विस्तार , शाखा-मिलन-मण्डली, कुटुंब-प्रबोधन, पर्यावरण, सामाजिक समरसता तथा संघ स्थापना के शताब्दी वर्ष में संघ के कार्य को प्रत्येक ग्राम तक पहुँचाने की योजना पर विचार-मंथन होगा । 

    बैठक के उद्घाटन सत्र में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए क्षेत्र-प्रचारक श्री दीपकजी विस्पुते ने स्वराज प्राप्ति के अमृत महोत्सव में 'स्व' के बोध जागरण में संघ के कार्यकर्ताओं की सहभागिता की सराहना की। श्री विस्पुतेजी ने कहा कि स्वतंत्रता आंदोलन में देश के सभी वर्गों के योगदान को स्वयसेवकं समाज के बीच लेकर गये एवं इतिहास में विस्मृत करा दिये गये क्रांतिकारियों की बलिदान गाथा को पुनर्स्थापित करने का पुनीत कार्य संघ ने किया। स्वराज अमृत-महोत्सव समाप्ति पर संघ स्वभाषा, स्वभूषा, स्वावलंबन, देशज शिक्षा एवं चिकित्सा पद्धति आदि के द्वारा स्वराज से स्वतंत्रता के लक्ष्य की ओर बढेगा। 

    राष्ट्र भाव के जागरण हेतु संघ के कार्यकर्ता हर घर तिरंगा अभियान सहित विभिन्न सामाजिक संगठनों द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में उत्साहपूर्वक भाग लेंगे। हर घर तिरंगा अभियान को सफल बनाने हेतु वृहद संपर्क, मोहल्ला और ग्राम बैठकें, समाज व प्रबुद्ध जन बैठकों का आयोजन किया जा रहा है। घुमन्तू समाज, जनजातीय ग्रामों व शहरी सेवा बस्तियों में भी तिरंगा वितरण व राष्ट्र गान प्रशिक्षण होगा।

    संघ स्थापना के शताब्दी वर्ष में शाखा, मिलन एवं मंडलियों के माध्यम से देश के हर गाँव तक संघ के कार्य को ले जाने के लिये संघ के कार्यकर्ताओं ने संकल्प लिया है। संघ के कार्यकर्ता सद्भाव बैठकों एवं सामाजिक सम्पर्क द्वारा सामाजिक समरसता निर्माण के कार्य में लगे है।हमारे जीवन मूल्यों का संरक्षण एवं सामाजिक विकृतियों के समाधान हेतु कुटुंब-प्रबोधन द्वारा हमारी परिवार व्यवस्था को पुष्ट करने का कार्य संघ कर रहा है।

      प्रकृति में परमात्मा के दर्शन करने वाली हमारी संस्कृति है। पर्यावरण संरक्षण एवं परिवर्धन में प्रत्येक भारतवासी की भूमिका है, संघ के कार्यकर्ता अपने पर्यावरण कार्यविभाग के माध्यम से बडी संख्या में समाज के सहयोग से पेड़ लगा रहे है। पानी के संवर्धन एवं प्लास्टिक मुक्त पर्यावरण हेतु विभिन्न जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन संघ के कार्यकर्ता कर रहे है। साथ ही हरित गृह एवं हरित मिलन जैसे कार्यक्रमों के द्वारा संघ के कार्यकर्ताओंं को पर्यावरण मित्र जीवन शैली अपनाने का आग्रह किया है। 



       बैठक से पूर्व मालवा प्रांत कार्यवाह श्री शंभुप्रसाद गिरि ने स्वराज अमृत-महोत्सव के निमित स्वतंत्रता आंदोलन में मालवा-निमाड़ के योगदान एवं क्रांतिकारियों पर केन्द्रित चित्र-प्रदर्शनी का दीप-प्रज्जवलन कर उद्घाटन किया।बैठक के उद्घाटन सत्र में मंच पर क्षेत्र प्रचारक जी के साथ प्रांत कार्यवाह श्री शंभुप्रसादजी गिरि भी उपस्थित थे। बैठक में प्रांत संघचालक माननीय श्रीप्रकाशजी शास्त्री भी पुरे समय उपस्थित रहेंगे एवं इनका मार्गदर्शन प्राप्त होगा। प्रांत बैठक में मालवा प्रांत के सभी जिलों की जिला टोलियों सहित विभाग एवं प्रांत कार्यकारिणी के कार्यकर्ता भाग ले रहे है। 



टिप्पणियाँ
Popular posts
धार में आयोजित होगा देश का प्रतिष्ठित साहित्योत्सव नर्मदा साहित्य मंथन का द्वितीय सौपान भोजपर्व!
चित्र
स्वतंत्रता के अमृत महोत्सव के अवसर पर समर्थ पार्क में निवासरत पूर्व सैनिकों का किया गया सम्मान
चित्र
त्योहारों के मद्देनजर एसडीएम का चंद्रशेखर आजाद नगर में हुआ दौरा, झोलाछाप डॉक्टरों पर गिरी गाज
चित्र
Workshop under STRIDE project for e- development of BRAUSS campus held
चित्र
राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय संगोष्ठी में राष्ट्रीय संगोष्ठी में राष्ट्रीय संगोष्ठी
चित्र