व्यक्ति विशेष -‘विष्णुदत्त’प्रदेश भाजपा के 'विष्णु गुप्त'

 लेखक-सत्येंद्र जैन


भारत के इतिहास में विष्णु गुप्त जिनको चाणक्य,कौटिल्य आदि नामों से भी जाना जाता है ।उन्होंने अपनी संकल्प शक्ति से एक सामान्य बालक चंद्रगुप्त को मौर्य साम्राज्य का सम्राट बनाया एवं मगध साम्राज्य का अंत किया।सम्राट घनानंद को पराजित किया किया ।अर्थशास्त्र ,नीति शास्त्र जैसे ग्रंथों की रचना की ।विशाल मौर्य साम्राज्य को अनेक वर्षों तक सुरक्षित ,संरक्षित किया ।वर्तमान में मध्यप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा चाणक्य के पर्याय हैं।उनके अतुल परिश्रम ,अप्रतिम बौद्धिक क्षमता एवं सांगठनिक क्षमता के त्रिवेणी प्रयोग से भारतीय जनता पार्टी को विधानसभा उपचुनाव,लोकसभा उपचुनाव,ग्राम पंचायत, जनपद पंचायत ,जिला पंचायत ,नगर परिषद ,नगर पालिका एवं नगर निगम चुनाव में ऐतिहासिक सफलता प्राप्त हुई है ।जो भारतीय जनता पार्टी के इतिहास में स्वर्ण अक्षरों से लिखी जाएगी। वर्तमान में मध्यप्रदेश में त्रिस्तरीय ग्रामीण निकाय एवं नगरीय निकाय के चुनाव संपन्न हो चुके हैं ।चुनाव के बाद राजनीतिक दलों की स्थिति स्पष्ट हो गई है ।भाजपा ने कीर्तिमान स्थापित किया है। वही मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के अतिरिक्त आम आदमी पार्टी एवं असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ने भी उपस्थिति दर्शाई है।


मध्यप्रदेश में फरवरी 2020 में विष्णु दत्त शर्मा के नवागत अध्यक्ष के रूप मे पदार्पण करते ही भाजपा में मंगल-मंगल होने लगा और मार्च के महीने में ही कांग्रेस की कमलनाथ सरकार का किला ध्वस्त हो गया। कमलनाथ सरकार चली गई और शिवराज सिंह चौहान ने चौथी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी उन्हें शुभंकर की संज्ञा देते हैं,उपमा देते हैं ।

विधानसभा एवं लोकसभा के उपचुनाव में भी भाजपा को महती सफलता प्राप्त हुई है।भाजपा की शिवराज सरकार को विधानसभा में भी सवा सौ से अधिक विधायकों का स्पष्ट बहुमत प्राप्त है।खंडवा लोकसभा सीट पर भी भाजपा विजयी हुई है।विष्णु दत्त शर्मा सदैव सक्रिय रहते हैं ।’सबका साथ,सबका विकास,सबका विश्वास और सबका प्रयास’ के मूलमंत्र को साधकर भाजपा की केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार एवं राज्य की शिवराज सरकार की तीन सौ से अधिक जन हितैषी योजनाओं को जन जन तक पहुँचाया है।सभी लाभार्थियों तक भाजपा कार्यकर्ताओं को पँहुचाने के लिए संगठन को सशक्त किया।


कोरोना महामारी के चरम काल में भी सक्रिय रहकर संगठन को शक्ति प्रदान करते रहे।अनेक जन हितैषी कार्य जिनमें लाखों प्रवासी बंधुओं को भोजन ,चरण पादुकाएँ, औषधि,वस्त्र आदि प्रदान करने में पार्टी के अभियान को कुशलता पूर्वक संपन्न कराया।समय समय पर जानकारी लेते रहे।कोरोना वैक्सीन जागरूकता अभियान में भी लाखों कार्यकर्ताओं ने उनके नेतृत्व में संपूर्ण प्रदेश में योगदान दिया।


प्रदेश के सभी बावन जिलों में अनेकों प्रवास कर संगठन को सशक्त बनाया है ।बूथ डिजिटलाइजेशन प्रोग्राम को धरातल पर शत प्रतिशत मूर्त रूप देकर पैंसठ हजार बूथ पर संगठन को सशक्त किया है।प्रत्येक बूथ पर पार्टी कार्यकर्ताओं को त्रिदेव (बूथ अध्यक्ष,बूथ महामंत्री, बूथ लेवल एजेंट)नियुक्त कर उनको पार्टी के ब्रम्हा, विष्णु, महेश की उपमा से अलंकृत किया।जिसकी प्रशंसा भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने भी राष्ट्रीय कार्यसमिति बैठक में की और मध्य प्रदेश के संगठन को आदर्श बताकर अन्य राज्यों की भाजपा इकाइयों को प्रेरणा लेने की सीख दी।


ग्रामीण निकाय के चुनाव में बाइस हजार नौ सौ चौबीस ग्राम पंचायतों में से बीस हजार छह सौ इकतालीस ग्राम पंचायतों में भाजपा समर्थित सरपंच निर्वाचित हुए हैं।यह नब्बे प्रतिशत सफलता है।तीन सौ तेरह जनपद में से दो सौ सत्ताइस जनपद में भाजपा समर्थकों की विजय पताका लहरा रही है ।जिला पंचायत के चुनाव में इक्यावन जिला पंचायतों में से इकतालीस जिला पंचायत अध्यक्ष भाजपा समर्थित हैं।


नगर परिषद चुनाव में दो सौ पचपन नगर परिषदों में से दो सौ इकतीस में भाजपा को बहुमत प्राप्त हुआ है।इसी प्रकार समस्त नगर परिषदों के कुल तीन हजार आठ सौ अट्ठाइस पार्षदों में से भाजपा के दो हजार दो विजयी हुए हैं।कांग्रेस के मात्र एक हजार सत्तासी पार्षद हैं।वर्ष 2014 के चुनावों में भाजपा की सफलता अट्ठावन प्रतिशत थी जो अभी इंक्यानबे प्रतिशत से अधिक है।भाजपा का वोट शेयर भी पचास प्रतिशत है।



छहत्तर नगर पालिकाओं में से पैंसठ में भाजपा को बहुमत प्राप्त है।कांग्रेस को ग्यारह पर संतोष करना पड़ रहा है।भाजपा का सफलता का प्रतिशत छयासी है। वोट शेयर लगभग बावन प्रतिशत है।समस्त नगर पालिका के सत्रह सौ पंचानवे पार्षदों में भाजपा के नौ सौ पचहत्तर विजयी हुए हैं ।वहीं कांग्रेस के पांच सौ सत्तर पार्षद हैं।वर्ष 2014 के चुनाव में भाजपा को अठानवे नगर पालिका में से चौवन में विजय श्री प्राप्त हुई थी।सफलता का प्रतिशत अट्ठावन था।

नगर निगमों में भाजपा को प्रशंसनीय सफलता प्राप्त हुई है।सोलह महापौर में से भाजपा के नौ महापौर निर्वाचित हुए हैं।वोट शेयर भी लगभग पचपन प्रतिशत है।कटनी से जनता ने भारतीय जनता पार्टी की पूर्व जिला मंत्री प्रीति सूरी को विजय श्री का आशीर्वाद दिया है। सिंगरौली से आम आदमी पार्टी की महापौर बनी हैं। कांग्रेस के ग्वालियर, जबलपुर, रीवा,मुरैना एवं छिंदवाड़ा में महापौर प्रत्याशी विजयी हुए हैं।सभी विजयी नगर निगमों में भाजपा के पार्षद भी बहुमत से विजयी हुए हैं वहाँ महापौर के साथ ही निगम अध्यक्ष भाजपा के होंगे। सिंगरौली, जबलपुर, ग्वालियर, रीवा, कटनी में भाजपा के पार्षद बहुमत में हैं ।अतः निगम अध्यक्ष भी भाजपा के होंगे।समस्त सोलह नगर निगमों के आठ सौ चौरासी पार्षदों में से भाजपा के चार सौ इंक्यानबे विजयी हुए हैं ।कांग्रेस के विजयी पार्षदों की संख्या दो सौ चौहत्तर है।भाजपा को कांग्रेस से लगभग दुगुनी सफलता प्राप्त हुई है।

वर्तमान की विषम परिस्थितियों में भी भाजपा ने सफलता के कीर्तिमान स्थापित किये हैं।अनुमान है कि आगामी विधानसभा चुनाव में भी भाजपा को विपुल सफलता अर्जित होगी ।शिवराज सिंह पुनः मुख्यमंत्री बन जनता की सेवा करेंगे।

वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में खजुराहो संसदीय सीट से चुनाव लड़ते समय देश के गृहमंत्री एवं तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को बुलेट पर बैठा कर चुनाव प्रचार किया ।उन्होंने ने भी जनसभा में कहा था कि विष्णु दत्त बड़े नेता के रूप में स्थापित होंगे।अतः यह कथन अतिश्योक्ति नहीं है कि विष्णु दत्त शर्मा वर्तमान में प्रदेश भाजपा के विष्णुगुप्त हैं,चाणक्य हैं।उन्हें और संगठन को विजय की बधाई।

टिप्पणियाँ
Popular posts
स्टेयरिंग फेल होने से घर में घुसी पिकअप, ड्राइवर की मौके पर ही मौत तीन घायल, - घटना के बाद ग्रामीणों ने स्टेट हाईवे पर लगाया जाम, वाहनों की लंबी कतार
चित्र
कोठीदा का मिट्टी वाला बांध हुआ लिकेज, एक दर्जन से अधीक ग्राम के लोग घबराए
चित्र
तबाही का मंझर आंखों के सामने~~~ 2 दिन से चल रहा डेम में लीकेज सही करने का काम, बाँध को खाली करने की जा खुदाई में आ रही दिक्‍कत दोनों ओर बनाई जा रही चेनल
चित्र
दोषियों पर कारवाई क्यो नही:, वीडियो से मिली डेम की लगी जानकारी जिम्मेदार अधिकारी को पानी रिसने की नही थी जानकारी, जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने उद्योग मंत्री दत्तीगांव के साथ किया मुआयना
चित्र
बाग में पटवारी की मिलीभगत से दूसरे जमीन घोटाले में भी केस दर्ज
चित्र