महिला व उसके बच्चे के लिए 108 बनी जीवनदायिनी - ललित दुबे


 ओंकारेश्वर ( ललित दुबे ) ओमकारेश्वर सिविल अस्पताल में प्राथमिक सुविधाओं के अभाव मे हमेशा मरीजो को. ओंकारेश्वर से खंडवा रेफर ले जाने के दौरान ओंकारेश्वर से एम्बुलेन्स के 108 के डॉक्टर गिरिराज दांगी ने रात्री 10:30 बजे रास्ते में ही डिलेवरी करवाई गई छोटी 6 गांव के निकट अचानक ग्राम कोठी की महिला प्रमिला उम्र 21 वर्ष को अचानक दर्द होने पर 108 के डॉक्टर एवं स्टाफ आशा कार्यकर्ता पुष्पा बाई एवं डॉं गिरिराज दांगी ने ओकारेश्वर से 65 किलोमीटर दूर सूझबूझ का परिचय देते हुए महिला को डिलीवरी करवाई जहां उसे पुत्र की प्राप्ति हुई 108 प्रदेश के मुख्यमंत्री की वरदान साबित हुई जच्चा बच्चा दोनों स्वस्थ हैं एंबुलेंस के स्टाफ की सभी ने प्रशंसा की



Popular posts
आंबेडकर विश्वविद्यालय, महू की "बाबू जगजीवन राम पीठ" के प्रोफेसर के रूप में डॉ शैलेंद्र मणि त्रिपाठी ने किया अपना कार्यभार ग्रहण
चित्र
रामचरित्र मानस पर आधारित प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का हुआ आंबेडकर विश्वविद्यालय में आयोजन, कई महान विभूतियों ने लिया भाग
चित्र
अम्बेडकर विश्वविद्यालय, महू में भक्तिमयी शबरी पर कार्यक्रम का मंचन
चित्र
विश्व हिंदू परिषद जिला महू की मातृशक्ति-दुर्गा वाहिनी द्वारा शस्त्र पूजन, महाआरती का किया गया आयोजन
चित्र
शक्ति उपासना राष्ट्रीय कवि सम्मेलन के आयोजन को लेकर डा. दवे के नेतृत्व वाले दल ने लिया जायजा
चित्र