महिला व उसके बच्चे के लिए 108 बनी जीवनदायिनी - ललित दुबे


 ओंकारेश्वर ( ललित दुबे ) ओमकारेश्वर सिविल अस्पताल में प्राथमिक सुविधाओं के अभाव मे हमेशा मरीजो को. ओंकारेश्वर से खंडवा रेफर ले जाने के दौरान ओंकारेश्वर से एम्बुलेन्स के 108 के डॉक्टर गिरिराज दांगी ने रात्री 10:30 बजे रास्ते में ही डिलेवरी करवाई गई छोटी 6 गांव के निकट अचानक ग्राम कोठी की महिला प्रमिला उम्र 21 वर्ष को अचानक दर्द होने पर 108 के डॉक्टर एवं स्टाफ आशा कार्यकर्ता पुष्पा बाई एवं डॉं गिरिराज दांगी ने ओकारेश्वर से 65 किलोमीटर दूर सूझबूझ का परिचय देते हुए महिला को डिलीवरी करवाई जहां उसे पुत्र की प्राप्ति हुई 108 प्रदेश के मुख्यमंत्री की वरदान साबित हुई जच्चा बच्चा दोनों स्वस्थ हैं एंबुलेंस के स्टाफ की सभी ने प्रशंसा की



टिप्पणियाँ
Popular posts
धार में आयोजित होगा देश का प्रतिष्ठित साहित्योत्सव नर्मदा साहित्य मंथन का द्वितीय सौपान भोजपर्व!
चित्र
स्वतंत्रता के अमृत महोत्सव के अवसर पर समर्थ पार्क में निवासरत पूर्व सैनिकों का किया गया सम्मान
चित्र
त्योहारों के मद्देनजर एसडीएम का चंद्रशेखर आजाद नगर में हुआ दौरा, झोलाछाप डॉक्टरों पर गिरी गाज
चित्र
Workshop under STRIDE project for e- development of BRAUSS campus held
चित्र
राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय संगोष्ठी में राष्ट्रीय संगोष्ठी में राष्ट्रीय संगोष्ठी
चित्र