महात्मा फुले जी की पुण्यतिथि पर डॉक्टर अंबेडकर विश्वविद्यालय ने दी श्रद्धांजलि

आज दिनांक 28/11/2020 प्रातः 11ः00 बजे डाॅ बी. आर. अम्बेडकर सामाजिक विज्ञान विष्वविद्यालय के महात्मा फुले ग्रंथालय में महात्मा फूले जी की पुण्यतिथि मनाई गई। इस अवसर पर विष्वविद्यालय के कुलसचिव प्रो. डी. के. शर्मा ने कहा कि महात्मा ज्योतिराव फुले 18वीं शताब्दी के महान समाज परिवर्तक रहे इसके लिए उन्होंने महिलाओं और वंचितो के लिए षिक्षा के द्वार खोले महात्मा ज्योतिराव फुले, छत्रपति षिवाजी को अपना प्रेरणा पुरुष माना और उनके जीवन पर एक कविता लिखी और वंचित वर्गो के उत्थान के लिए अपना सर्वस्व जीवन लगा दिया। ऐसे महान पुरुष को हम लोग जयंती और पुण्यतिथि के माध्यम से याद करते है। हमें महात्मा फुले के विचारों का भारत बनाने का निरंतर प्रयास करना जरुरी है। महापुरुषों को सच्ची श्ऱद्धांजलि तभी मानी जायेगी जब हम उनके विचारों का समाज बनाने का निरंतर प्रयास करते रहेंगे, इस अवसर पर प्रो. किषोर जाॅन, डीन ने कहा कि हमे महात्मा फुले के जीवन से प्रेरणा लेना चाहिए और वंचित समाज के लिए अपने से जो भी बनता हो किया जाना चाहिए।


पुण्यतिथि के अवसर पर सर्वप्रथम महात्मा फुले ग्रंथालय में स्थित महात्मा फुले की प्रतिमा पर कुलसचिव प्रो. डी.के शर्मा ने पुष्पांजलि अर्पित करने के साथ मोमबत्ती प्रज्वल्लित कर श्रद्धांजलि अर्पित की इस अवसर पर ग्रंथालय प्रभारी प्रो. किषोर जाॅन सहित श्री पंकज सोनी, श्री विजय इंगले, श्री रविन्द्र भंवर, सुश्री चेतना बोरीवाल, डाॅ. बिंदिया तातड़े डाॅ. नवरत्न बौथरा, श्री मुकेष यादव, श्री जीषान षेख, अभिलाषा स्टीफन्स, कु. अंजु यादव, श्री लाखन डावर, श्री सोनू रायकमल आदि के द्वारा फुले जी, डाॅ. बाबासाहेब अम्बेडकर एवं गौतम बुद्ध को पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की गई।