वन डिपो में तीन माह से लकड़ी नहीं, शवदाह में आ रही दिक्कत

12 किलोमीटर दुर से लाना पड रही जलाऊ लकड़ीयां


ओंकारेश्वर (निप्र) - पुनासा वन परिक्षैत्र के कोठी रेंज के अंतर्गत ओंकारेश्वर के वन डिपो में करीब तीन माह से जलाऊ लकड़ी नहीं है। ऐसे में शवों का अंतिम संस्कार करने के लिए नगरवासीयो एवं आस पास के शव लेकर आने वाले ग्रामीणों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। पुनासा विकासखण्ड के अंतर्गत बड़ी मात्रा मे जंगल होने के बावजूद वन विभाग द्वारा जनहित और सामाजिक सरोकार को नजर अंदाज किए जाने से ग्रामीणों में आक्रोश है।


ओंकारेश्वर के आसपास से गांवों के लोग जलाऊ लकड़ी और निस्तार के लिए बांस-बल्ली नहीं मिलने से परेशान हैं। वन विभाग के डिपो में लंबे समय से लकड़ी-बांस नही होने से सबसे ज्यादा दिक्कत शव दाह में हो रही है। ओंकारेश्वर में शवदाह के लिए ग्रामीण ओंकारेश्वर डिपो से लकड़ी लेकर जाते हैं।तो वही जलाऊ लकडी़ वन विभाग द्वारा रियायती दर पर उपलब्ध करवाई जाती है।


         समाजसेवी पंडित कमलेश थापक ने बताया कि वनपरिक्षेत्र कार्यालय कोठी में शव के दाह संस्कार तक के लिए जलाऊ लकड़ी नहीं है। मृतक के परिजनों को जलाऊ लकड़ी के लिए परेशान होना पड़ता है। कोई तीन माह से यह स्थिति बनी हुई है। ओंकारेश्वर सहित आसपास के ग्रामीणों को शव दाह के लिए खेतों से सूखे पेड़ काटकर लकड़ी की व्यवस्था करनी पड़ रही है कुछ को मोरटक्का डिपो जाकर जलाऊ लकड़ी लाना पड रही हैं।


पिछले एक लावारिस महिला के शव को लकड़ी के अभाव में स्वयं के लिये बनाई गई लकडी़ की टपरी तोड़ कर आस-पडोस के लोगों सहित नगर परिषद् के कर्मचारियों द्वारा लावारिस महिला के शव का अंतिम संस्कार किया गया था।


 


*""साल भर में 150 क्विंटल की खपत""*


 


वन परिक्षैत्र अधिकारी पुनासा दिनेश ठाकुर ने जानकारी देते हुए बताया की लंबे समय से समाचार पत्रों के माध्यम से ओंकारेश्वर डिपो में शव दाह के लिए लकड़ी नही होने की जानकारी मिल रही थी वरिष्ठ अधिकारीयों के निर्देश पर डिपो में शिघ्र जलाऊ लकड़ी की व्यवस्था एक साल में लगभग की जा रही हैं। ठाकुर ने कहा की डिपो में प्रतिवर्ष 150 क्विंटल जलाऊ लकड़ी की खपत होती है। विभाग की ओर से 2,310 रुपए प्रति चट्ठा की दर से लकड़ी सभी को जलाऊ लकडी उपलब्ध करवायी जाती है।


इस बारे में जब खंडवा के मुख्य वन संरक्षक श्री एसएस रावत से बात की तो उन्होंने कहा, "मुझे आपके द्वारा जानकारी मिली है कि डिपो में जलाऊ लकड़ी नहीं है।संबंधित को जलाऊ लकड़ी की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं"।


 


 खंडवा कलेक्टर अनय द्विवेदी ने कहा, "शव दाह के लिये जलाऊ लकड़ी की व्यवस्था किन कारणों से नही हैं,दिखवाकर व्यवस्था की जायेगी।"



 


टिप्पणियाँ
Popular posts
*धरती माँ की प्यास बुझाने के लिए महु में होंगा हलमा*
चित्र
म.प्र. के गुना में हुए शिकार, शिकारियों द्वारा तीन पुलिसकर्मियों की हत्या & शिकारियों की पृष्ठभूमि का वरिष्ट पत्रकार अतुल गुप्ता द्वारा बहुत ही सटीक विश्लेषण
चित्र
तिरला पुलिस के 3 दिन के रिमांड पर भू कारोबारी भोला तिवारी, जमीन खरीदी में धोखाधड़ी के मामले में महिला की शिकायत पर दर्ज हुआ था प्रकरण
चित्र
प्रेशर से फीस मांग नहीं सकते,छात्रवृत्ति मिली आधी रोकस ने थमा दिए 1 करोड़ चुकाने के नोटिस, मुश्किल में 12 नर्सिंग कॉलेज के संचालक, कोविड काल में ट्रेनिग की राशि मांग
चित्र
अलीराजपुर जिले की स्थापना दिवस पर चंद्रशेखर आजाद नगर में गौरव रैली का आयोजन
चित्र