स्वास्थ्य संचालनालय ने बताया सैनिटाइजर मशीन को स्वास्थ्य के लिए घातक, कोदरिया पंचायत ने तुरंत हटाई मशीन

 जबसे कोरोनावायरस की महामारी पूरे देश समेत दुनिया भर में फैली है, तब से इससे बचने के लिए कहीं पर मास्क की अनिवार्यता, तो कहीं हाथों में सैनिटाइजर बार-बार लगाना और बार-बार हाथ धोना, सैनिटाइजिंग मशीन में से निकलना आदि अलग-अलग तरीके बताए गए।


इन सब तरीकों का लोगों ने हर संभव अनुसरण करने की कोशिश भी की और इसी कोशिश में इंदौर समेत कई जगहों पर अस्पतालों के बाहर उक्त सैनिटाइजिंग मशीन लगाई गई। जिसमें से गुजर कर ही किसी को भी अंदर जाना होता था होता है।


आज ही महू के समीप स्थित कोदरिया पंचायत में ऐसी ही एक सैनिटाइजिंग मशीन गांव और कॉलोनियों के मुख्य द्वार पर लगाई पर कुछ ही घंटों में कोदरिया सरपंच अनुराधा जोशी के पास स्वास्थ्य संचालनालय की तरफ से हिदायत आई कि जिस सोडियम हाइपोक्लोराइट का इस्तेमाल लोगों को सैनिटाइज करने में होता है उसका मनुष्य के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल असर पड़ता है।


इस केमिकल के कारण त्वचा की परेशानियां होती हैं, साथ ही अन्य कई परेशानियां भी आती हैं। इसी को लेकर इंदौर जिला पंचायत सीईओ नेहा मीणा ने कोदरिया पंचायत को मशीन को तुरंत हटाने का कहा और पंचायत ने भी त्वरित कार्रवाई करते हुए उस मशीन को हटा दिया जिसे कुछ घंटे पहले ही ग्राम वासियों के लिए चालू किया था।



 


Popular posts
आंबेडकर विश्वविद्यालय, महू की "बाबू जगजीवन राम पीठ" के प्रोफेसर के रूप में डॉ शैलेंद्र मणि त्रिपाठी ने किया अपना कार्यभार ग्रहण
चित्र
अम्बेडकर विश्वविद्यालय, महू में भक्तिमयी शबरी पर कार्यक्रम का मंचन
चित्र
रामचरित्र मानस पर आधारित प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का हुआ आंबेडकर विश्वविद्यालय में आयोजन, कई महान विभूतियों ने लिया भाग
चित्र
शक्ति उपासना राष्ट्रीय कवि सम्मेलन के आयोजन को लेकर डा. दवे के नेतृत्व वाले दल ने लिया जायजा
चित्र
विश्व हिंदू परिषद जिला महू की मातृशक्ति-दुर्गा वाहिनी द्वारा शस्त्र पूजन, महाआरती का किया गया आयोजन
चित्र