प्याज की चोरी मेंं हुई फायरिंग, दो मृत व 1 घायल

बीती रात धार जिले के एक गांव में हुई गोलीबारी की घटना ने पूरे जिले में सनसनी फैला दी।


दरअसल राजगढ़ थाना क्षेत्र के अंतर्गत पड़ने वाले गांव अमोदिया जोकि सरदारपुर के काफी करीब है, आधी रात के आस-पास कुछ चोरों ने धावा बोला। उन्होंने वहां के किसान दौलत राम सोलंकी के गोदाम से 6 कट्टे प्याज चुराए और तीन मोटरसाइकिलों पर 2- 2 कट्टे रखकर वहां से चलते बने।


इस बात की जानकारी जब सोलंकी परिवार को लगी तो दौलत राम सोलंकी, बबलू सोलंकी और हरी राम सोलंकी अपनी- अपनी मोटरसाइकिल से उनके पीछे गए कुछ दूर पहुंचकर वे तीनों रुक गए और इसी बीच 5 या 6 मोटरसाइकिलों पर उनके बहुत सारे दूसरे साथी भी आ गए और उन लोगों ने अंधाधुंध फायरिंग करना शुरू कर दिया। साथ ही गोफन से पत्थर बरसाना भी शुरू कर दिया।


इस फायरिंग में बबलू सोलंकी को सीने में गोली लगी, वही दौलत राम सोलंकी को पेट में गोली लगी। बबलू की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, वही दौलत राम और हरिराम को राजगढ़ के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया जहां पर डॉक्टर एमएल जैन ने दौलत राम की स्थिति को नाजुक समझते हुए उन्हें इंदौर रेफर कर दिया और जब एंबुलेंस उन्हें इंदौर ले जा रही थी तो रास्ते में ही उनकी मृत्यु हो गई।


हरिराम सोलंकी जिनके पैर में गोली लगी थी उनकी स्थिति ठीक है और उनका राजगढ़ में ही इलाज चल रहा है। इस घटनाक्रम से पूरे गांव में इन चोरी की घटनाओं को लेकर और उन पर पुलिस द्वारा काबू नहीं कर पाने को लेकर भयंकर रोष है।


2 दिन पहले भी दिनदहाड़े ऐसे ही लोग मोटरसाइकिल पर आए और दो बकरियां गांव से लेकर चले गए थे। और उन्हें कोई रोक नहीं पाया था। ग्रामीणों ने इस बात की शिकायत राजगढ़ थाने में की थी जिस पर मुकदमा दर्ज किया जा कर जांच शुरू हुई है।


घटना में एक और घायल हरीश सोलंकी ने बताया की 15 से 20 लोग इस चोरी की घटना में शामिल थे जिनकी उम्र 30 से 45 वर्ष के बीच है और वह सभी आसपास के आदिवासी परिवेश के लग रहे थे। उनकी बोली से भी ऐसा लग रहा था कि वह उसी क्षेत्र के हैं। बहरहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और मामले में जांच जारी है।


पुलिस सूत्रों के अनुसार चोरों की सरगर्मी से हर तरफ तलाश की जा रही है और पुलिस ने अपने गुप्तचरों को भी इस काम में लगा रखा है जिससे कि चोरों की जानकारी लग सके।