इस सैन्य अधिकारी ने पेश की दरियादिली की अनूठी मिसाल, गरीब लोगों को पहुंचाया राशन और खाने-पीने की चीजें

आज पूरा देश कोरोना की महामारी से पीड़ित है और इसी के चलते जगह जगह पर ब्लॉकडाउन और कर्फ्यू चल रहा है।


ऐसे में गरीब लोगों के लिए ज्यादा बड़ी समस्या खड़ी हो गई है। और देखने में आ रहा है कि बहुत ही स्वयंसेवी संस्थाएं और लोग आगे आ रहे हैं उन गरीब लोगों तक राशन और खाने पीने की चीजें पहुंचाने के लिए जिनके पास ना तो पैसे हैं राशन खरीदने के लिए न ही उन्हें कोई मदद.पहुंची है अभी तक। पर उनके पास परिवार है और खाने वाले लोग हैं।


ऐसा ही एक वाक्या महू की निचली बस्तियों में देखने में आया जहां महू में ही पदस्थ एक सैन्य अधिकारी कर्नल अनिल कुमार ने अपनी दरियादिली दिखाते हुए गरीब लोगों को राशन और खाने पीने की चीजें पहुंचाई।


कर्नल अनिल कुमार वैसे तो एडवेंचर लवर हैं और महू के आसपास के पिकनिक स्पॉटों की सफाई उनकी दैैनिक दिनचर्या का एक हिस्सा है। महू में हुए लााकडाउन के आदेश के बाद जब उन्हें पता चला की बहुत से गरीब लोगों को दो वक्त का खाना भी नसीब नहीं हो रहा है तो उन्होंने और उनके कुछ अन्य सैन्य अधिकारी दोस्तों ने योजना बनाई कि वह राशन के पैकेट बनाकर लोगों तक पहुंच आएंगे जिससे लॉक डाउन का समय उनका अच्छे से बीत सके। उन्होंने एक ग्रुप भी बनाया है जिसका नाम टीका एडवेंचर है आज उन्होंने तेली खेड़ा इलाके में 30 परिवारों को राशन, साबुन मास्क और अन्य चीजें भेंट की।