आइजनहावर से ट्रंप तक: 73 साल में भारत दौरे पर आए छह अमेरिकी राष्ट्रपति

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पत्नी मेलानिया के साथ दो दिवसीय भारत यात्रा पर सोमवार को अहमदाबाद पहुंच रहे हैं। अहमदाबाद में रोड शो और नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति आगरा और फिर दिल्ली का भी दौरा करेंगे। बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप भारत आने वाले सातवें अमेरिकी राष्ट्रपति होंगे।

इससे पहले आजादी के बाद के 73 सालों में छह अमेरिकी राष्ट्रपति भारत का दौरा कर चुके हैं। लेकिन, क्लिंटन की यात्रा से पहले सभी राष्ट्रपतियों ने भारत से ज्यादा पाकिस्तान को महत्व दिया था। 

डी आइजनहावर, दिसंबर 1959
डी आइजनहावर भारत के दौरे पर आने वाले पहले अमेरिकी राष्ट्रपति थे। वह दिसंबर 1959 में भारत के चार दिवसीय दौरे पर दिल्ली आए थे। इस दौरान आइजनहावर ने भारत की संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित किया था और ताजमहल देखने आगरा भी गए थे। उन्होंने इस दौरान दिल्ली के रामलीला मैदान में एक विशाल रैली को भी संबोधित किया था।

रिचर्ड निक्सन, जुलाई 1969
रिचर्ड निक्सन 31 जुलाई 1969 को भारत दौरे पर पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने केवल 22 घंटे भारत में बिताए फिर वह पाकिस्तान चले गए। तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी से उनके संबंध अच्छे नहीं थे। निक्सन की यात्रा का उद्देश्य इंदिरा गांधी के साथ तनाव और अविश्वास कम करना था।

तब अमेरिका के पाकिस्तान प्रेम का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि 1971 के भारत पाक युद्ध के दौरान तत्कालीन राष्ट्रपति रिचर्ड निक्सन ने खुलकर भारत को धमकी दी थी। इतना ही नहीं, अमेरिका ने पाकिस्तान की सहायता के लिए प्रशांत महासागर में तैनात अपना सातवां बेड़ा भी भेजा था। लेकिन, रूस (सोवियत संघ समाजवादी गणराज्य) द्वारा भारत का समर्थन करने के बाद वह पीछे हट गया।

जिमी कार्टर, जनवरी 1978
जिमी कार्टर भारत के दौरे पर आने वाले अमेरिका के तीसरे राष्ट्रपति थे। उन्होंने एक से तीन जनवरी 1978 को तीन दिन की भारत यात्रा की थी। यह यात्रा तब हुई थी जब भारत में आपातकाल के बाद पहली बार गैर कांग्रेसी सरकार बनी थी और इंदिरा गांधी की करारी हार हुई थी। कार्टर की इस यात्रा ने भारत और अमेरिका के बीच परमाणु परीक्षण के बाद तल्ख हुए रिश्तों को नरम किया था।

बिल क्लिंटन, मार्च 2000
अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन की भारत यात्रा ने 50 साल के पाक-अमेरिका समीकरण को पलट दिया था। उन्होंने इस दौरान पांच दिन भारत में बिताए जबकि पांच घंटे पाकिस्तान में। क्लिंटन की यात्रा के समय भारत के प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी थे। क्लिंटन तब आगरा, हैदराबाद, मुंबई, जयपुर और दिल्ली गए थे।

जॉर्ज डब्ल्यू बुश, मार्च 2006
मनमोहन सिंह के कार्यकाल के दौरान एक से तीन मार्च 2006 को जार्ज बुश अपनी पत्नी लारा बुश के साथ भारत दौरे पर आए थे। इस दौरान उन्होंने 60 घंटे भारत में बिताए। बुश के इसी दौरे में भारत ने परमाणु समझौते पर हस्ताक्षर किया था।

बराक ओबामा, 2010 और 2015
बराक ओबामा अपने दोनों कार्यकाल में भारत पहुंचे। उन्होंने भारत की संसद को संबोधित भी किया और 26/11 के मुंबई हमले के पीड़ितों से भी मिले थे। इसी दौरे में ओबामा ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की स्थायी सदस्यता का भी समर्थन किया था।

मई 2014 में ओबामा गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि बनकर दूसरी बार भारत पहुंचे थे। तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रोटोकॉल तोड़कर एयरपोर्ट पर ओबामा का स्वागत किया था।


 


 


 


साभार- अमर उजाला


टिप्पणियाँ
Popular posts
धार में आयोजित होगा देश का प्रतिष्ठित साहित्योत्सव नर्मदा साहित्य मंथन का द्वितीय सौपान भोजपर्व!
चित्र
स्वतंत्रता के अमृत महोत्सव के अवसर पर समर्थ पार्क में निवासरत पूर्व सैनिकों का किया गया सम्मान
चित्र
त्योहारों के मद्देनजर एसडीएम का चंद्रशेखर आजाद नगर में हुआ दौरा, झोलाछाप डॉक्टरों पर गिरी गाज
चित्र
Workshop under STRIDE project for e- development of BRAUSS campus held
चित्र
राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय संगोष्ठी में राष्ट्रीय संगोष्ठी में राष्ट्रीय संगोष्ठी
चित्र