प्रदेश का प्रथम पेसा जागरूकता सम्मेलन कूक्षी में सम्पन्न, जल-जंगल और जमीन के साथ शराब दुकानों को गाँवो में खोलने की अनुमति भी ग्राम सभा को

 यशवंत जैन 


गांव के विकास की बात अब भोपाल से नही चौपाल से होगी~ मुख्यमंत्री


कूक्षी। पेसा कानून बनाने के बाद प्रदेश में पैसा को लेकर पहला पेसा जागरूकता सम्मेलन कूक्षी की कृषि उपजमंडी में कोई 20 हजार जनजाति वर्ग के लोगो की उपस्थिति में हुआ।इस आयोजन में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कोई एक घण्टे देरी विलम्ब से पहुँचे ओर सवा घण्टे कूक्षी में रुके। मुख्यमंत्री का हेलीपेड पर स्वागत धार सांसद छत्तर सिह दरबार,राज्यसभा सांसद सुमेर सिह सोलंकी,खरगोन सांसद गजेंद्र सिंह पटेल,,प्रदेश भाजपा मंत्री जयदीप पटेल,जिलाध्यक्ष राजीव यादव, ,नगर परिषद अध्यक्ष मुक़ामसिह किराड़े,पूर्व मंत्री रंजना बघेल,वीरेंद्र सिंह बघेल,जिला पंचायत सदस्य चंचल पाटीदार,रमेश धाड़ीवाल,ने की।




 कार्यक्रम स्थल पर मुख्यमंत्री ने सबसे पहले ग्रामीण क्षेत्रो से आये सरपंचों से पेसा कानून को लेकर खटला बैठक की ओर सरपंचों से कहा कि वे इस कानून को गाँव गाँव तक पहुचाये ओर एस्के फायदे भी लोगो को बताये।

 इस अवसर पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कहा कि प्रदेश के 79 जनजाति विकास खण्ड के जनजाति बन्धुओ,आजादी के 75 वर्षों बाद जनजाति समाज को सबसे बड़ा अधिकार प्रदेश की भाजपा सरकार ने दिया है । श्री शर्मा ने कहा प्रदेश में 15 नवम्बर के दिन ऐतिहासिक दिन रहा जनजाति गौरव दिवस पर प्रदेश में पैसा कानून लागू हुआ जिसे आजादी के 55 वर्षों तक कांग्रेस के राज में लागू नही किया गया ।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि प्रदेश में अब पेसा एक्ट लागू कर दिया है जिसे जानना जरूरी है आज भाषण नही पढ़ाने आया हूँ, समझाने आया हूँ।पेसा एक्ट जनजाति समाज के हित मे है और यह अन्य समाज के खिलाफ नही है।पेसा शहरों में लागू नही होगा, गाँवो में ओर आदिवासी ब्लॉक में लागू होगा। मुख्यमंत्री ने कहा जमीन सब की,जंगल ओर जल सबका अधिकार है।आदिवासी ओर गैर आदिवासी सभी ग्राम सभा मे रहेंगे कोई बाहर नही रहेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा गाँवो में जमीन का अधिकार ग्राम सभा के पास रहेगा,भु अर्जन किया जाना है तो ग्राम सभा के बिना नही लि जा सकेगी। अब पटवारियों को साल में एक बार नक्शे,खसरा की नकल ग्राम सभा मे रखना पड़ेगी हर साल,बताना पड़ेगी की किस की जमीन है गड़बड़ नही चलेगी।छल,कपट,बहलाकर, फुसलाकर जमीन अपने नाम कर लेने वालो के खिलाफ करवाई करेगे ।

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह ने कहा धर्मांतरण कर बेटियों से शादी कर जमीन किसी के नाम नही होगी।पेसा में छलकपट से जमीन किसी धर्मान्तरणी के नाम नही होगी। अब हमारी अस्मिता का सवाल है हमारी कोई चीज नही छीन पायेगा। मुख्यमंत्री ने ग्राम सभा को पेसा में अधिकार बताते हुए कहा कि कोई भी खनिज रेत,गिट्टी,लेना है तो सर्वे कर ग्राम सभा से लेना होगी। गाँव की खदानें गाँव की आदिवासी सोसायटी को, बहनो को फिर,पुरुष को लेने का अधिकार रहेगा।हमारे संसाधन अब हमारे पास रहेंगे।जल का अधिकार भी गांव वाले ही करेगे।मछली पालन भी गाँव मे ही होगा ओर 100 एकड़ तक के तालाबो की देख रेख भी ग्राम सभा करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा जंगल का अधिकार भी आपको है जो वनोंपज होती है वनोपज संघ लेता था अब वनोपज गांव वाले ही इकट्ठा करेगी भाव भी ग्राम सभा तय करेगी।सभी वनोपज से गाँव का विकास होगा साथ ही,तेंदू पत्ता भी आप तोड़ोगे आप ही बेचोगे।सरकार का इसमें कोई दखल नही होगा। अगर इस वर्ष 15 दिसम्बर तक तय करना पड़ेगा।गाँव ,पंचायतों में जो पैसा आ रहा है उसकी योजना भोपाल में नही चौपाल पर बनेगी। मुख्यमंत्री ने पेसा में अन्य अधिकारों की चर्चा करते हुए कहा मस्टर रोल भी सबके सामने रखेगे ग्राम सभा मे,गाँव मे मजदूर लेने के लिए आएगा तो ग्राम सभा की अनुमति लेना पड़ेगा।मजदूरी करने वाले मजदूर को पूरी मजदूरी मिलने की ग्राम सभा ही तय करेगी।साहूकार लाइसेंस से ही ऋण देना होगा जो पैसे दिए तो निर्धारित ब्याज ही लेना पड़ेगा।अधिक ब्याज नही ले सकेगा कोई भी।नही तो दिया पैसा माफ कर दिया जाएगा। गांव में अब शराब और भांग की दुकान बिना ग्राम सभा की अनुमति के नही खोली जा सकेगी।ग्रामो में महिलाएं तय कर ले तो शराब दुकान भी अब नही खुलेगी। गाँवो में शराब दुकानों को,स्कूल,अस्पताल के पास भी नही रहेगी। ग्राम सभा ओर गांव वाले चाहे तो त्योहार के दिन भी दारू नही बिकेगी यह ग्राम सभा तय करेगी ।गाँव मे शांति,रक्षा समिति बनेगी जो झगड़ो को निपटायेगी।गाँव के फैसले गाँव मे ही होंगे। पुलिस को भी अब एफआईआर की जानकारी ग्राम सभा को सूचना देना होगी।स्कूल,मास्टर भी आप देखो।सब कुछ ग्राम सभा को अधिकार है। मुख्यमंत्री एवं प्रदेश अध्यक्ष ने क्रांति सूर्य टंट्या मामा के बलिदान दिवस पर 4 दिसम्बर को इंदौर में बड़ी सभा करने का आव्हान भी किया और यहाँ से एक यात्रा को हरी झंडी दिखाकर शुरू की।

टिप्पणियाँ
Popular posts
पति ने उठाया खौफनाक कदम: धारदार हथियार से पत्नी की हत्या कर किया सुसाइड, जांच में जुटी पुलिस
चित्र
त्योहारों के मद्देनजर एसडीएम का चंद्रशेखर आजाद नगर में हुआ दौरा, झोलाछाप डॉक्टरों पर गिरी गाज
चित्र
कर्मसत्ता किसी को नहीं छोड़ती चाहे राजा हो या रंक --प्रिय लक्ष्णा श्री जी म सा
चित्र
मॉम्स ने बताए सर्दी से बचाव के तरीके
चित्र
ठेकेदार की लापरवाही भुगत रहे ग्रमीण, यह कैसा विकास ? ग्रामीणों को हर रोज करनी पड़ती है नाली की साफ सफाई जिम्मेदार सोए कुम्भकर्ण की नींद पानी की निकासी की व्यवस्था नहीं सड़क पर कीचड़ से निकलना तक मुश्किल गांव की सूरत बनाना तो दूर , जगह जगह पसरी गंदगी
चित्र