सडको पर लगा रहे मौत की रेस, बुलेट के शोर के बाद अब स्‍टंटबाजी की होड, दूसरो की जान भी जोखिम में डाल रहे बाइकर्स

आशीष यादव, धार 

आजकल के युवा रफ्तार से खासे रोमांचित हो रहे है, ये अपने साथ-साथ अन्‍य लोगो की जान जोखिम में डाल देते है, ये सडको पर स्‍पोर्टस बाइक से मौत की रेस लगाते है। एक तरफ पुलिस हेलमेट के लिए जागरुक्‍ता अभियान चला रही है तो दूसरी और स्‍टंटबाज तेज रफ्‍तार बाइको से स्‍टंट कर इंस्‍टाग्राम पर रिल्‍स बना रहे है। ताजा मामला धार के मांडू रोड पर देखने को मिला, जहां दो स्‍कूली छात्र स्‍टंट करने के चक्‍कर में चोटिल हो गए। दोनों की छात्र मांडू रोड पर तेज रफ्‍तार बाइक से बिजली के पोल से टकरा गए। स्‍थानीय लोगो की मदद से दोनों छात्राे को जिला चिकित्‍साल में भर्ती कराया गया है जिन्‍हें सिर और पैर में गंभीर चोट आई है।


स्‍टंट पर भारी, दूसरो की जान भी जोखिम में डाल रहे बाइकर्स

बुलेट के साइलेंसर से निकलने वाली पटाखों की आवाज के बाद अब शहर में स्‍टंट बाजी की होड मची हुई है। यह स्‍टंटबाज तेज रफ्‍तार से बाइक चलाकर स्‍टंट करते है, अन्‍य बाइक पर बैठे इनके साथी इनके मोबाइल से वीडियों शूट कर रिल्‍स बनाते है। दरअसल दिनदयालपुरम निवासी दिनेश पिता करण और शेखर पिता बाबूलाल सुबह के समय अपनी बाइक एमपी 11 जी 5595 से स्‍कूल जाने के लिए निकले थे, मांडू रोड पर रिलांयस पेट्रोल पंप के आगे तेज रफ्‍तार बाइक के स्‍टंट कर रहे थे, जिससे बाइक बेकाबू हो गई और बिजली के पोल से टकरा गई। स्‍थानीय लोगो ने बताया कि बाइक की स्‍पीड बहुत तेज थी, जिससे छात्र बाइक को कंट्रोल नही कर पाए। एंबुलेंस और पुलिस की मदद से घायलों को जिला अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। दोनों को पैर और सिर में गंभीर चोटो आई है।


पुलिस विभाग कर रहा जागरुक

पुलिस विभाग इन दिनों बाइक चालको को हेलमेट के लिए जागरुक कर रहा है, नही लगाने वालों से चालान बनाकर जुर्माना भी वूसला जा रहा है, इसके बाद भी स्‍टंटबाज बेखौफ स्‍टंट कर रहे है। मांडू रोड पर इन दिनों इस तरह के स्‍टंट आए दिन देखे जाते है।



टिप्पणियाँ
Popular posts
पति ने उठाया खौफनाक कदम: धारदार हथियार से पत्नी की हत्या कर किया सुसाइड, जांच में जुटी पुलिस
चित्र
त्योहारों के मद्देनजर एसडीएम का चंद्रशेखर आजाद नगर में हुआ दौरा, झोलाछाप डॉक्टरों पर गिरी गाज
चित्र
कर्मसत्ता किसी को नहीं छोड़ती चाहे राजा हो या रंक --प्रिय लक्ष्णा श्री जी म सा
चित्र
मॉम्स ने बताए सर्दी से बचाव के तरीके
चित्र
ठेकेदार की लापरवाही भुगत रहे ग्रमीण, यह कैसा विकास ? ग्रामीणों को हर रोज करनी पड़ती है नाली की साफ सफाई जिम्मेदार सोए कुम्भकर्ण की नींद पानी की निकासी की व्यवस्था नहीं सड़क पर कीचड़ से निकलना तक मुश्किल गांव की सूरत बनाना तो दूर , जगह जगह पसरी गंदगी
चित्र