पीथमपुर सेक्टर 1 के नवीन थाना भवन का लोकार्पण, आईएसओ प्रमाणीकरण कार्यक्रम भी हुआ

आशीष यादव, धार 

पीथमपुर औद्योगिक क्षेत्र और पीथमपुर पुलिस नगर अधीक्षक क्षेत्र के थाना पीथमपुर (बगदून) के नवीन

थाना भवन का भूमि पूजन, सेक्टर नंबर 1 पुलिस थाना के आईएसओ प्रमाणीकरण व नगर पुलिस अधीक्षक कार्यालय का उद्घाटन कार्यक्रम संपन्न हुआ। इन थाना परिसरों के चलते शहर के पुलिस प्रशासन को नई मजबूती मिल गई है। नवीन थाना भवन का उद्घाटन समारोह में मुख्य रूप से धार विधायक नीना वर्मा, जिला पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह, जिला अतिरिक्तत पुलिस अधीक्षक देवेन्द्र पाटीदार, नगर पालिका अध्यक्ष कविता वैष्णव एसडीएम रोशनी पाटीदार के हाथों हुआ। वहीं इस अवसर नगरपुलिस अधीक्षक तरुणेद्र सिंह बघेल,पीथमपुर थाना प्रभारी आनंद तिवारी, सागोर थाना प्रभारी राजेंद्र भदौरिया, सेक्टर एक थाना प्रभारी भदौरिया और तीनों थाना क्षेत्र के अधिकारियों व कर्मचारियों सहित भाजपा नेता संजय वैष्णव, पिंटू जायसवाल, कांग्रेस नेता जगदीश सेन सहित शहर के समाज सेवी, जनप्रतिनिधि, उद्योगपति,पत्रकार व नगर के वरिष्ठ गणमान्य लोग उपस्थित थे। जिला पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए बताया कि धार जिले में 22 थाने आईएसओ हुए हैं। जिसमें पीथमपुर सब डिवीजन के दो थाने हैं। पहला थाना सागौर और दूसरा थाना आज सेक्टर एक है। इसी मौके पर नगर पुलिस अधीक्षक पीथमपुर कार्यालय का नए भवन का लोकार्पण समारोह हुआ। उन्होंने कहा कि आईएसओ होना बड़ी बात है। पीथमपुर के लोगों को इसका लाभ मिलेगा और सही समय पर सही अधिकारी के पास शिकायत पहुंचेगी तो समय पर ही समाधान हो सकता है। इस अवसर पर पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों को स्मानित भी किया गया। जिसमें यशवंत योगी, अजय भदौरिया, सूरज तिवारी, महेश यादव, सैयद अहमद व प्रमोद बामनिया शामिल हैं। 



टिप्पणियाँ
Popular posts
पति ने उठाया खौफनाक कदम: धारदार हथियार से पत्नी की हत्या कर किया सुसाइड, जांच में जुटी पुलिस
चित्र
त्योहारों के मद्देनजर एसडीएम का चंद्रशेखर आजाद नगर में हुआ दौरा, झोलाछाप डॉक्टरों पर गिरी गाज
चित्र
कर्मसत्ता किसी को नहीं छोड़ती चाहे राजा हो या रंक --प्रिय लक्ष्णा श्री जी म सा
चित्र
मॉम्स ने बताए सर्दी से बचाव के तरीके
चित्र
ठेकेदार की लापरवाही भुगत रहे ग्रमीण, यह कैसा विकास ? ग्रामीणों को हर रोज करनी पड़ती है नाली की साफ सफाई जिम्मेदार सोए कुम्भकर्ण की नींद पानी की निकासी की व्यवस्था नहीं सड़क पर कीचड़ से निकलना तक मुश्किल गांव की सूरत बनाना तो दूर , जगह जगह पसरी गंदगी
चित्र