पर्युषण महापर्व का समापन, मंदिराे में कलशाभिषेक हुए, चल समाराेह निकला

 महू. दिगम्बर जैन समाज के दस दिनी पर्युषण महापर्व का समापन शुक्रवार काे कलश चतुर्दशी पर्व के साथ हुअा। इस दाैरान सभी मंदिराें मंे दाेपहर मंे कलशाभिषेक हुए। वहीं नगर में चल समाराेह भी निकला।

जैन गली स्थित बड़े मंदिरजी से दाेपहर 3.30 बजे चल समाराेह के साथ कार्यक्रम की शुरुअात हुई। चल समाराेह मंे महिलाएं केसरिया व पुरुष श्वेत वस्त्र में शामिल हुए। चल समाराेह के पूर्व मंदिर मंे कलश की बाेली का साैभाग्य नीरज प्रेमचंद कासीलवाल परिवार काे मिला। चल समाराेह जैन गली से छाेटा बाजार, फूल चाैक, सराफा बाजार, कनाट राेड हाेते हुए चैत्यालय पहुंचा। यहां मंदिर मंे भगवान के कलशाभिषेक हुए। इसके बाद यहां से चल समाराेह तेरापंथी मंदिर व अजमेरी मंदिर हाेते हुए बड़े मंदिरजी मंे पहुंचा। सभी मंदिरांे मंे कलशाभिषेक के साथ पर्व का समापन हुअा।

क्षमावाणी पर्व 11 काे...

दिगम्बर जैन समाज द्वारा रविवार 11 सितंबर काे क्षमावाणी पर्व मनाया जाएगा। इस दाैरान दाेपहर 3 बजे सांघी स्ट्रीट से चल समाराेह निकलेगा। इस दाैरान सभी मंदिराें मंे दाेपहर मंे कलशाभिषेक हाेंगे। इसके बाद प्लाउडन राेड स्थित जैन धर्मशाला मंे समाज का स्नेह सम्मेलन हाेगा। वहीं रात काे प्रवचन के बाद समाजबंधु एक-दूसरे से सामूहिक क्षमा याचना करेंगे। 



टिप्पणियाँ
Popular posts
धार में आयोजित होगा देश का प्रतिष्ठित साहित्योत्सव नर्मदा साहित्य मंथन का द्वितीय सौपान भोजपर्व!
चित्र
स्वतंत्रता के अमृत महोत्सव के अवसर पर समर्थ पार्क में निवासरत पूर्व सैनिकों का किया गया सम्मान
चित्र
त्योहारों के मद्देनजर एसडीएम का चंद्रशेखर आजाद नगर में हुआ दौरा, झोलाछाप डॉक्टरों पर गिरी गाज
चित्र
Workshop under STRIDE project for e- development of BRAUSS campus held
चित्र
राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन संभावना और चुनौती पर अंबेडकर विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय संगोष्ठी में राष्ट्रीय संगोष्ठी में राष्ट्रीय संगोष्ठी
चित्र