साथियों के साथ मिलकर की थी हत्या दो साल से दे रहा था पुलिस को चकमा, किसान के खेत से प्याज के कट्टे चुराये थे वही रोकने पर किया था फायर

आशीष यादव, धार 

सायबर क्राईम ब्रांच धार एवं थाना राजगढ़ पुलिस को 02 वर्षों से डकैती सहित हत्या के अपराध में फरार 30 हजार के इनामी बदमाश हरसिंह निवासी टिकमाझीरी को पकड़ने में मिली सफलता। वर्ष 2020 में आरोपी ने अपने 07 अन्य साथियों के साथ मिलकर राजगढ़ थाना क्षेत्रांतर्गत ग्राम अमोदिया में किसान के खेत से 08 देशी प्याज के कट्टे चुराये थे। खेत मालिक व उसके पुत्रों द्वारा आरोपियों को रोकने पर आरोपियों ने देशी कट्टे से किया था फायर। देशी कट्टे के छर्रे लगने पर खेत मालिक के पुत्र बबलू सिर्वी की, हो गई थी मौके पर मौत। डकैती सहित हत्या के प्रकरण में शामिल कुल 08 बदमाशों में से 07 बदमाशों को थाना राजगढ़ पुलिस ने किया था गिरफ्तार। शेष 01 आरोपी हरसिंह की गिरफ्तारी पर पुलिस महानिरीक्षक इन्दौर जोन इन्दौर महोदय द्वारा 30 हजार के ईनाम की थी वही पुलिस अधीक्षक धार आदित्य प्रताप सिंह द्वारा हत्या, चोरी, लूट व डकैती जैसे गंभीर अपराधों में लम्बे समय से फरार चल रहे आरोपियों की धड़पकड़ हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धार देवेन्द्र पाटीदार के निर्देशन में उप पुलिस अधीक्षक सायबर क्राईम धार सुश्री नीलेश्वर डावर, जिलें के समस्त थाना प्रभारियों के साथ-साथ सायबर क्राईम ब्रांच धार प्रभारी त्रिलोक सिंह बैस को आवश्यक दिशा निर्देश जारी कर उचित कार्यवाही हेतु लगाया गया था।


मुखबीर की सुचना पर पकड़ा

वही 30 जुलाई को सायबर क्राईम ब्रांच धार प्रभारी त्रिलोक सिंह बैस को मुखबिर से सूचना मिली कि थाना राजगढ़ के अपराध क्रमांक 107/20 धारा 396 भादवि में फरार नामदर्ज इनामी आरोपी कुंवरसिंह पिता बालु मोहनिया अपने गांव टिकमाझीरी आया हुआ है। मुखबिर की सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों के साथ थाना प्रभारी राजगढ़ निरीक्षक ब्रजेश कुमार मालवीय को सूचना से अवगत कराया। सायबर क्राईम ब्रांच धार टीम व थाना राजगढ़ टीम ने संयुक्त कार्यवाही करते हुए ग्राम टिकमाझीरी में आरोपी के घर पर दबिश दी। एक व्यक्ति पुलिस को देखकर भागने लगा, जिसे टीम द्वारा घेराबंदी कर पकड़ा गया, जिसका नाम पता पूछते उसने अपना नाम हरसिंह उर्फ हरेसिंह पिता बालू मोहनिया जाति भील उम्र 45 साल निवासी ग्राम टिकमाझीरी टंकी फलिया थाना राजगढ़ जिला धार होना बताया। टीम द्वारा पकडा गया आरोपी हरसिंह, थाना राजगढ़ के अपराध क्रमांक 107/20 धारा 396 भादवि में विवेचना के दौरान नामदर्ज आरोपी होकर वर्ष 2020 से ही फरार चल रहा था, जिसकी गिरफ्तारी के थाना राजगढ़ पुलिस ने भरसक प्रयास किए, परंतु आरोपी शातिर होकर अपना रहने का ठीकाना समय-समय पर बदलता रहा, जिससे वह पुलिस की गिरफ्तारी से बाहर रहा। डकैती सहित हत्या जैसे गंभीर प्रकरण में आरोपी की गिरफ्तारी सुनिष्चित करने हेतु पुलिस महानिरीक्षक इन्दौर जोन इन्दौर महोदय द्वारा आरोपी हरसिंह की गिरफ्तारी पर कुल 30 हजार. का इनाम उद्घोषित किया था। अपराध सदर में आरोपी हरसिंह से पूछताछ करते उसने वर्ष 2020 में अपने अन्य 07 साथियों के साथ मिलकर ग्राम अमोदिया के प्याज लूट के दौरान साथियों के साथ फायर करने की वारदात करना कबूल किया। थाना राजगढ़ पुलिस द्वारा आरोपी हरसिंह को अपराध सदर में गिरफ्तार कर न्यायालय पेष किया जा रहा है। 


वारदात कबूली व बताई घटना 

आरोपी हरसिंह द्वारा कबूल की गई वारदात बताई 6.अप्रैल 2018 की रात्रि करीब 08ः30 बजे 08 बदमाश 04 मोटर सायकल से दौलतराम सिर्वी निवासी ग्राम अमोदिया के खेत पर पहुचे और वहा रखे प्याज के कट्टो में से 08 प्याज के कट्टे अपनी मोटर सायकल से ले जाने लगे। खेत मालिक दौलतराम व उसके दोनो बेटे संजय व बबलु सौलंकी ने बदमाशों को प्याज ले जाते देखा और पीछा करने पर एक बदमाश ने देशी कट्टे से 4-5 फायर किए। जिससे दौलतराम व उसके दोनो पुत्र घायल हो गए। बाद अस्पताल ले जाते दौलतराम के छोटे पुत्र बबलु सिर्वी की मृत्यु हो गई। फरियादी संजय सौलंकी की रिपोर्ट पर से थाना राजगढ़ में 08 अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध अपराध क्रमांक 107/20 धारा 396 भादवि का अपराध पंजीबद्ध किया गया। विवेचना के दौरान थाना राजगढ़ पुलिस द्वारा 07 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था, आरोपी हरसिंह घटना दिनांक से ही फरार चल रहा था। 


पकड़ने में इनकी रही भूमिका:

आरोपी हरसिंह भील को पकड़ने में सायबर क्राईम ब्रांच धार प्रभारी त्रिलोक सिंह बैस, सउनि रामसिंह गौर, प्रआर. गुलसिंह, आर. बलराम, आर. सर्वेशसिंह एवं थाना प्रभारी राजगढ़ ब्रजेश कुमार मालवीय, उनि रामचंद्र डामोर, प्रआर. रविन्द्र जाट की महत्वपूर्ण भूमिका रही। 



टिप्पणियाँ
Popular posts
स्टेयरिंग फेल होने से घर में घुसी पिकअप, ड्राइवर की मौके पर ही मौत तीन घायल, - घटना के बाद ग्रामीणों ने स्टेट हाईवे पर लगाया जाम, वाहनों की लंबी कतार
चित्र
कोठीदा का मिट्टी वाला बांध हुआ लिकेज, एक दर्जन से अधीक ग्राम के लोग घबराए
चित्र
तबाही का मंझर आंखों के सामने~~~ 2 दिन से चल रहा डेम में लीकेज सही करने का काम, बाँध को खाली करने की जा खुदाई में आ रही दिक्‍कत दोनों ओर बनाई जा रही चेनल
चित्र
दोषियों पर कारवाई क्यो नही:, वीडियो से मिली डेम की लगी जानकारी जिम्मेदार अधिकारी को पानी रिसने की नही थी जानकारी, जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने उद्योग मंत्री दत्तीगांव के साथ किया मुआयना
चित्र
बाग में पटवारी की मिलीभगत से दूसरे जमीन घोटाले में भी केस दर्ज
चित्र