ईजी था प्रश्न पत्र पूछे हिंगोट का आयोजन किस जिले में होता है धार को लेकर नही थे प्रश्न, 27 केंद्रों पर पहले सत्र 6 हजार 491 व दूसरे में 6 हजार 441 परीक्षाथियों ने दी परीक्षा दो हजार से अधिक नही पहुँचे परीक्षा देने

आशीष यादव, धार

दो साल से कोरोना के कारण लगातार परीक्षाएं लंबित थी वही कोरोना के बाद कोई परीक्षा नही हुई थी परीक्षा को लेकर विद्यार्थियों में जुनून था वहीं 2019 के बाद हुई कोरोना के कारण कोई भी शासकीय परीक्षा नही हुई थी ऐसी लिए 2022 में सिविल परीक्षा सेवाओं में अधिक से अधिक विद्यार्थियों ने भाग लिया वहीं जिले में 8 हजार से अधिक विद्यार्थियों ने आवेदन किए थे मगर परीक्षा में 6 हजार 491 लोग परीक्षा में बैठे हैं मध्यप्रदेश राज्य सेवा एवं राज्य वन प्रारंभिक परीक्षा रविवार को हुई इसमे एमपी पीएससी की प्रारंभिक परीक्षा के लिए शहर में बनाए गए 27 परीक्षा केंद्रों पर सख्त इंतजाम रहेंगे । इन केन्द्रों पर कुल 8611 परीक्षार्थी शामिल होकर परीक्षा देंगे । परीक्षा कक्ष में जूते - मोजे पहनकर आना एवं चेहरे को ढंककर आना प्रतिबंधित रहेगा । इसके अलावा परीक्षा कक्ष एसेसरीज जैसे बालों का क्लेचर , बक्कल , घड़ी हाथ में पहने जाने वाले किसी भी प्रकार के बैंड , कमर बेल्ट चश्मे , पर्स , वॉलेट , टोपी आदि लाना भी वर्जित रहेगा । परीक्षा के लिए जिला स्तर पर परीक्षा नोडल अधिकारी , उड़नदस्ता दल एवं पुलिस बल की व्यवस्था की गई है 


दो सत्रों में हुई परीक्षा , काले बॉल पेन का किया उपयोग

यह परीक्षा दो सत्रों में होगी । प्रथम सत्र सुबह 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक और द्वितीय सत्र दोपहर 2.15 से सांय 4.15 बजे तक का था वही परीक्षा कक्ष में परीक्षार्थियों को प्रथम सत्र में सुबह 9.30 बजे के पहले ही केंद्रों पर पहुच गए व अपने अपने रोल नंबर देखने लगे एवं द्वितीय सत्र में दोपहर 1.45 बजे से प्रवेश दिया गया । परीक्षा में काले बॉल पेन का ही उपयोग किया वही कच्चे अन्य कलर के पेन के परीक्षा में उपयोग के लिए लाए थे मगर उन्हें मनाकर दिया वही अन्य साथियों से पेन लिए। परीक्षार्थियों को प्रवेश पत्र , फोटोयुक्त मूल परिचय पत्र , यात्रा भत्ता के लिए जाति प्रमाण पत्र की सत्यापित छायाप्रति लाना अनिवार्य है था



 नही लेजाने दी गई ये वस्तुएं

वही परीक्षा कक्ष में इलेक्ट्रानिक डिवाइस , संचार , उपकरण , मोबाइल , पेजर तथा कैलक्यूलेटर आदि का प्रयोग पूर्णतः प्रतिबंधित था बच्चो द्वारा जो लाया गया तंग उसे बाहर रखवा लिया गया वही कक्ष में जूते - मोजे पहनकर प्रवेश नहीं दिया गया लेकिन परीक्षार्थी चप्पल व सैंडल पहनकर आये थे वही बच्चे चेहरे को ढंक कर परीक्षा कक्ष तक आये थे तो उनके पकड़े व रुमाल उतरवाकर में प्रवेश दिया। इसके अलावा एसेसरीज जैसे बालों को बांधने का क्लचर , बक्कल , घड़ी , हाथ में पहने जाने वाले मैटेलिक चमड़े के बैंड , कमर में पहने जाने वाले बेल्ट , धूप में पहने जाने वाले चश्मा , पर्स , टोपी पहनकर अन्य साधनों वालो के सभी सामना केंद्रों से बाहर रखवा दिए व वहां एक कर्मचारी को बैठा दिया ।



पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था 09 उडनदस्ते थे

म.प्र. लोक सेवा आयोग द्वारा राज्य सेवा एवं राज्य वन प्रारंभिक परीक्षा-2021 आयोजन को लेकर 27 परीक्षा केन्द्रों स्थापित किए गए है।कलेक्टर डॉं. पंकज जैन ने आयोजित होने वाली परीक्षा की देख-रेख एवं पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था निगरानी के लिए 9 उडनदस्ते के दल गठित कर अनुविभागीय दण्डाधिकारी एवं कार्यपालिक दण्डाधिकारी को नोडल अधिकारी नियुक्त किए थे परीक्षा केन्द्रों का समय समय पर निरीक्षण किया। साथ ही परीक्षा केन्द्रों के ओकस्मिक निरीक्षण संबंधी जानकारी भी प्रस्तुत की गई। 


यह प्रश्न पूछे

मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा प्रश्न पत्र में ऐसे कई अनेक प्रश्न इतिहास से थे जिसे बच्चे आसानी से कर सके किसी तीर्थस्थल को मांधाता को किस नाम से जाना जाता था वही वही अटल प्रगति से सम्बंध है राज्य लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष व सदस्यो की नियुक्ति कौन करता है मुझे मध्य प्रदेश के कौन से जिले में लिंग अनुपात कम है उसको लेकर भी प्रश्न पत्र में पूछा गया था

परीक्षा देने आया कहीं बच्चो ने कहा कि एक पेपर अच्छा था तो एक पेपर कठिन तो कुछ ने कहा कि दोनों पेपर इस बार सरल इस है। 



टिप्पणियाँ
Popular posts
दिगठान में कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन किया
चित्र
आधुनिक दौर के पँचायत चुनाव~ समय के साथ बदलते दौर में बदलते चुनाव तरीके से प्रचार कर रहे गांवों में सरपंच प्रत्याशी~ ग्रामीण इलाकों में बदला प्रचार करने का तरीका हर रोज आ रहे नए नुस्खे
चित्र
डॉक्टर डे पर की लोकायुक्त ने महिला डॉक्टर के साथ बनाया नर्स को भी आरोपी बनाया आरोपी, डिलीवरी कराने के नाम पर मांगे थे 8 हजार रुपये
चित्र
जलदेवता को मनाने नगर में निकाली जिंदा मुर्दे की शव यात्रा
चित्र
धार में दूसरे चरण का मतदान हुए सम्पन्न , 12 सो हजार पुलिसकर्मी केंद्रों पर तैनात, मतदान केंद्र पर लंबी कतार~~ शांतिपूर्ण हुए मतदान 77 प्रतिशत मतदान 3 लाख 32 हजार से अधिक मतदाता ने डाले वोट
चित्र