अलीराजपुर जिले के नानपुर में हुई अनोखी शादी, शादी में दूल्हा एक लेकिन उसकी दुल्हन तीन

 यशवंत जैन, अलीराजपुर

ग्राम नानपुर के पूर्व सरपंच समर्थ मौर्य ने एक ही मंडप के नीचे 

अपनी तीन प्रेमिकाओं के अपने परिजन और रिश्तेदार की मौजूदगी में  लिए सात फेरे

             अलीराजपुर में रविवार को हुई एक अनोखी शादी अब इलाके में लोगो के बीच खासी चर्चाओं में है। इस अनोखी शादी में दूल्हा तो एक ही था लेकिन उसकी दुल्हन या यूँ कहे कि दुल्हनें तीन थी। चोंक गए न आप ? जी हां, एक दूल्हा और उसकी तीन दुल्हनों वाली इस शादी की क्या है कहानी आइये जानते है। 



               शादी की यह तस्वीर अलीराजपुर जिले के नानपुर गाँव में रविवार को हुई एक अनोखी शादी की है। आप सोच रहे है होंगे ऐसा क्या खास है इस शादी में ? दरअसल तस्वीरो को गौर से देखिये, इस विवाह समारोह में दूल्हा तो एक ही है लेकिन उसकी तीन दुल्हने नज़र आ रही है। जी हां ! नानपुर गाँव के रहने वाले समरथ मौर्य ने एक ही मंडप के नीचे अपनी तीन प्रेमीकाओ के साथ सात फेरे लिए है। वो भी पूरे धूम-धाम से और अपने परिवारजनों व रिश्तेदारों की मौजूदगी में। 





समरथ मौर्य, दूल्हा एवं पूर्व सरपंच नानपुर


 समरथ मौर्य बताते है कि करीब 15 साल पहले वे अपनी तीन प्रेमिकाओं को भगा कर अपने साथ ले आये थे और उसी के बाद से इनके साथ लिव-इन में रह रहे थे। लिव-इन में रहने के साथ ही तीनो से उनके पति-पत्नियों वाले सम्बन्ध थे और उनके इन पत्नियों से 6 बच्चे भी है। 15 साल पहले आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने की वजह से वे अपनी प्रेमिकाओं के साथ सात फेरे नहीं ले पाये थे। और सामाजिक परंपरा के अनुसार जब तक वे अपनी प्रेमिकाओं के साथ विवाह बंधन में नहीं बांध जाते, समाज उनके इस रिश्ते को मान्यता नहीं देता। इसी की वजह से आज जब समरथ मौर्य की आर्थिक स्थिति सुधर चूकि है तो उन्होंने रविवार को आदिवासी रीती रिवाज़ों के साथ अपनी तीनो प्रेमिकाओं के साथ एक ही मंडप में सात फेरे लिए। ताकि उन्हें और उनके परिवार को समाज में मान्यता और आदर मिल सके। 


              आपको बता दें कि संविधान में आदिवासी जनजाति को मिले विशेष अधिकारों के तहत इन जनजातियों में परंपरा के अनुसार इस तरह के विवाह को मान्यता दी गई है। लिहाज़ा कानून भी इन मामलों में दखल नहीं देता। बहरहाल नानपुर गाँव में सरपंच रह चुके समरथ मौर्य की यह अनोखी शादी अब इलाके में खूब चर्चित हो रही है। चौक चौराहो से ले कर सोशल मीडिया तक नानपुर गाँव में हुई इस अनोखी शादी की चर्चा बनी हुई है। 




टिप्पणियाँ
Popular posts
*धरती माँ की प्यास बुझाने के लिए महु में होंगा हलमा*
चित्र
म.प्र. के गुना में हुए शिकार, शिकारियों द्वारा तीन पुलिसकर्मियों की हत्या & शिकारियों की पृष्ठभूमि का वरिष्ट पत्रकार अतुल गुप्ता द्वारा बहुत ही सटीक विश्लेषण
चित्र
तिरला पुलिस के 3 दिन के रिमांड पर भू कारोबारी भोला तिवारी, जमीन खरीदी में धोखाधड़ी के मामले में महिला की शिकायत पर दर्ज हुआ था प्रकरण
चित्र
प्रेशर से फीस मांग नहीं सकते,छात्रवृत्ति मिली आधी रोकस ने थमा दिए 1 करोड़ चुकाने के नोटिस, मुश्किल में 12 नर्सिंग कॉलेज के संचालक, कोविड काल में ट्रेनिग की राशि मांग
चित्र
अलीराजपुर जिले की स्थापना दिवस पर चंद्रशेखर आजाद नगर में गौरव रैली का आयोजन
चित्र