सार्क फुटसल चैंपियनशिप बांग्लादेश (ढाका) में भारत का नाम करेंगे रोशन महू के आशीष सेन। विपरीत परिस्थितियों में सबल जहबे की मिसाल

 *सार्क  


महू! नगर के चमते खिलाड़ियों की चमक को और भी चमकाया है श्री आशीष सेन ये वो नाम है जिसने खुद तो कई अंतरराष्ट्रीय मैचों में देश का नाम थाईलैंड, श्रीलंका, नेपाल, भूटान में रोशन किया ही है। वही प्रदेश भर के अनेक खिलाड़ियों को भी निखारा है। जिससे उनके शिष्यो ने भी राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी शिरकत विभिन्न खेल स्पर्धाओ में की है। एक बार फिर फुटसल एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने आशीष सेन को भारत का प्रतिनिधित्व करने का निमंत्रण दिया तो महू नगर के सम्मान का ध्वज और भी लहरा उठा। आशीष सेन को सार्क फुटसल चैंपियनशिप में बांग्लादेश (ढाका) में 09 अप्रैल से 13 अप्रैल तक भारत की और से खेलना है। जिसमें भारत, बांग्लादेश, पाकिस्तान, श्रीलंका, नेपाल, अफगानिस्तान, भूटान, मालदीव्स देश की टीमें इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेंगी। आशीष सेन ने बचपन से खेल के प्रति अपने आप को समर्पित किया है। कई बार पुरुस्कारों से भी सम्मानित किया गया है। आशीष का नियम से 4-5 घटे अभ्यास इनकी दिनचर्या का हिस्सा बन गया है। अपने उभरते खिलाड़ियों को भी खेल की बारीकियां समझाते है। खेल के प्रति इनकी लगन और अथम महेनत का ही परिणाम है की आज आशीष सेन बांग्लादेश (ढाका) में सार्क फुटसल चैंपियनशिप में भारत का ध्वज थामेंगे। महू नगर को इन पर गर्व है। इनकी इस उपलब्धि पर मध्यप्रदेश फुटसल एसोसिएशन के सचिव वाहिद खान, अविनाश क्लोसिया, पंकज राठौर, अरुण उपाध्याय, एस्ट्रो अरमान, एम. बी. तमु, विवेक श्रीवास (गोल्डी), पंकज श्रीवास्तव, अमजद खान, वेद प्रकाश तिवारी, पवन शर्मा, एडवोकेट अब्दुल अब्बास, बाबूलाल कायथ, रमीज राजा, इमरान खान, लोकेश यादव, अंकुश भेरवाल, दीपक वर्मा, सूरज सिंह राजपूत, उमेश यादव, नितेश राठौर व सभी खिलाड़ियों ने उज्वल भविष्य की कामना करते हुए बहुत - बहुत बधाई।



Popular posts
आंबेडकर विश्वविद्यालय, महू की "बाबू जगजीवन राम पीठ" के प्रोफेसर के रूप में डॉ शैलेंद्र मणि त्रिपाठी ने किया अपना कार्यभार ग्रहण
चित्र
रामचरित्र मानस पर आधारित प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का हुआ आंबेडकर विश्वविद्यालय में आयोजन, कई महान विभूतियों ने लिया भाग
चित्र
अम्बेडकर विश्वविद्यालय, महू में भक्तिमयी शबरी पर कार्यक्रम का मंचन
चित्र
विश्व हिंदू परिषद जिला महू की मातृशक्ति-दुर्गा वाहिनी द्वारा शस्त्र पूजन, महाआरती का किया गया आयोजन
चित्र
शक्ति उपासना राष्ट्रीय कवि सम्मेलन के आयोजन को लेकर डा. दवे के नेतृत्व वाले दल ने लिया जायजा
चित्र