पर्यटन व सांस्कृतिक मंत्री उषा ठाकुर व तुलसी सिलावट ने किए ओम्कारेश्वर में ममलेश्वर ज्योतिर्लिंग के covid-19 के नियमो की धज्जियां उड़ाते हुए किया दर्शन।चर्चाओ मे

  ललित दुबे, ओंकारेश्वर

ओकारेश्वर ( नि प्र )

तीर्थ नगरी ओकारेश्वर में मध्यप्रदेश पर्यटक विभाग और सांस्कृतिक मंत्री उषा ठाकुर और तुलसी सिलावट के साथ मांधाता विधायक नारायण पटेल ने ओम्कारेश्वर पहुंचकर भगवान श्री ममलेश्वर ज्योतिर्लिंग की पूजा अर्चना की ।

    सुश्री उषा ठाकुर ने बताया कि कोविड-19 कोरोना से बचने के लिए आध्यात्मिक की ओर रुझान करना चाहिए।

ओम्कारेश्वर के विकास के बारे में आपने बताया कि यहाँ पर 164 करोड़ की कार्ययोजना शंकर शिल्यान्यास के तहत स्वीकृत गई है और इसी के तहत विकास कार्य किए जा रहे हैं।

ओंकारेश्वर आए भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के द्वारा भारतीय पुरातत्व विभाग द्वारा कोविड-19 के चलते ममलेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर में प्रवेश पूरी तरह प्रतिबंध करने के बाद भी स्थानीय नेताओं द्वारा पर्यटन मंत्री विधायक व नेताओं को मंदिर गर्भ ग्रह में दर्शन पूजन कराने पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पंडित महेश शर्मा पंडित श्रीकांत जोशी व अन्य पंडितों ने पत्रकारों से चर्चा में कहा कि तीर्थ के पंडित पुजारियों ने ऐसा कौन सा पाप कर दिया कि पिछले 8 माह से रोजी रोटी के लिए जीविका चलाने के लिए दर-दर भटक रहे हैं शासन प्रशासन एवं भारतीय पुरातत्व विभाग मंदिर प्रांगण में दर्शन पूजन की अनुमति भी नहीं दे रहा और नेताओं के लिए कोई नियम कानून नहीं सोशल डिस्टेंस एवं नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए नेताओं को दर्शन कराएं पंडितों ने इस संबंध में शीघ्र निर्णय लेने की बात करते हुए न्यायालय में जाने की बात कही इस संबंध में भारतीय पुरातत्व विभाग के अधिकारियों से बात करना चाहिए तो एक दूसरे पर पल्ला झाड़ते नजर आए