पत्रकार ललित दुबे ने धार की अपनी बहन की सुरक्षा के लिए लगाई गुहार

धार ( जि कार्यो ) मेरी बहन व परिवार को आत्महत्या करने के लिए मजबूर करने वालो के विरूघ कार्यवाही हेतु भाई ने पुलिस से लगाई गुहार दिए आवेदन मे म प्र शासन के अधिमान्य पत्रकार ललित दुबे ने कहा कि मेरी बड़ी बहन श्रीमती जयश्री दिनेश मुकाती गुप्तेश्वर गली वार्ड क्रमांक 19 धार में निवासरत होकर 3 पुत्रियां हैं इनका पैतृक मकान जिस मे बचपन से निवास कर रहे थे क्योंकि मुकाती परिवार के प्रवीण पिता बसंत मुकाती .सतीश पिता बसंत मुकाती . नरेंद्र पिता सुधाकर मुकाती. नविन पिता सुधाकर मुकाती. शिप्रा बाई पति सुधाकर मुकाती .पुष्पा पति अशोक मुकाती. अरुण पिता राम हरि कृष्ण मुकाती. तथा वर्तमान में मकान से बेदखल कर जबरदस्ती कब्जा करने वाले कांति पिता भेरुलाल बागड़ी गिरीश पिता भेरुलाल बागड़ी तथा दलाल गोपेश्वर उर्फ गोपी द्वारा षडयंत्र पूर्वक मुख्य मार्ग पर स्थित मकान पर कब्जा कर दुकान किराए से दे दी है तथा अनावश्यक रूप से उपरोक्त मुकाती परिवार पैतृक संपत्ति को लेकर आए दिन वाद-विवाद करते रहते हैं इससे मेरी बहन जय श्री मुकाती की मानसिक स्थिति खराब हो रही है इनको अनेक बार समझाइश दी गई है किंतु कोई सुधार नहीं हो रहा है इनके द्वारा नियम कानून की धज्जियां उड़ाते हुए तुमसे जो बने करने एवं जान से मारने की धमकी जय श्री मुकाती एवं उनके पति व बच्चों को दी जा रही है इनके द्वारा दि जा रही मेरी बहन को आत्महत्या करने के लिए उकसाया जा रहा है निकट भविष्य में मेरी बहन को किसी प्रकार की क्षति या नुकसान होता है तो इसके लिए इनको सभी व्यक्तियों को जिम्मेदार मानकर न्याय उचित कठोर कार्रवाई करने की गुहार थाना प्रभारी धार एवं पुलिस अधीक्षक धार को पत्र लिखकर लगाई है