बाग औद्यौगिक क्षेत्र के रूप में विकसित होगा, शिल्पकारों को कॉमन फैसिलीटी सेंटर की स्थापना के लिए मिली 10 हेक्टेयर ज़मीन 

भोपाल- 21,अगस्त, 2020


धार जिले का बाग औद्यौगिक क्षेत्र के रूप में विकसित होगा। बाग क्षेत्र के शिल्पकारों को उनके परम्परागत प्रिंटिंग कार्य के ‍लिए कॉमन फैसिलीटी सेंटर की स्थापना के लिए 10.426 हैक्टेयर ज़मीन प्रदान की गई है। औद्यौगिक क्षेत्र के विकास पर 10 करोड़ रूपये की राशि भी खर्च की जायेगी।   


  बाग शिल्पकारों को पुश्तेनी कार्य में प्रोत्साहन देने के उ‍द्येश्य आज ‍जिला कलेक्टर श्री आलोक कुमार सिंह ने बाग क्षेत्र का दौरा किया तथा बाग प्रिंट शिल्पकारों से मुलाक़ात की। उन्होंने इस अवसर पर शिल्पकारों को बधाई देते हुए जानकारी दी कि आप लोगों को बाग बाय पास रोड़ से लगकर खसरा क्रमांक 33/1/1/ मीन-2 क्षेत्रफ़ल 10.426 हैक्टेयर भूमि प्रदान की गई है।


भारत सरकार एवं मध्यप्रदेश सरकार के जिला उद्योग केंद्रे एवं मध्यप्रदेश हस्तशिल्प एव हाथकरघा विकास के सहयोग से 10 करोड़ रुपये खर्च कर बाग प्रिंट औद्यौगिक क्षेत्र विकसित होगा। साथ ही बाग क्षेत्र में निमार्ण कार्य कराये जायेंगे।


मध्यप्रदेश हस्तशिल्प एवं हाथकरघा आयुक्त श्री राजीव शर्मा ने बाग प्रिंट उद्योग कला के विस्तार तथा रोजगार को बढ़ावा देने के लिए योजना बनाई है। 


इस मौके पर बाग प्रिंट के शिल्प गुरु मोहम्मद युसूफ खत्री ने राज्य सरकार के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि इस प्रोजेक्ट से निश्चित ही शिल्पकारों को सीधे तौर पर फायदा होगा। बाग प्रिंट शिल्पकारों ने भी प्रसन्नता व्यक्त की।



Popular posts
अम्बेडकर विश्वविद्यालय, महू में भक्तिमयी शबरी पर कार्यक्रम का मंचन
चित्र
रामचरित्र मानस पर आधारित प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का हुआ आंबेडकर विश्वविद्यालय में आयोजन, कई महान विभूतियों ने लिया भाग
चित्र
आंबेडकर विश्वविद्यालय, महू की "बाबू जगजीवन राम पीठ" के प्रोफेसर के रूप में डॉ शैलेंद्र मणि त्रिपाठी ने किया अपना कार्यभार ग्रहण
चित्र
औद्योगिक क्षेत्र पीथमपुर के युवा तरुणाई शुभम पाराशर का जन्म दिवस मनाया गया धूमधाम से
चित्र
अम्बेडकर विश्वविद्यालय का ‘नक्सल ऑपरेशन एंड लेसन्स’ विषय पर राष्ट्रीय परिसंवाद का आयोजन
चित्र