प्रशासन के सख्त निर्देश के चलते देवशयनी ग्यारस पर ओंकारेश्वर में नहीं उमड़ा आस्था का जनसैलाब

ओकारेश्वर ( नि प्र ) खंडवा प्रशासन के सख्त निर्देश के चलतेे, हैं देवशयनी ग्यारस (आषाढ़ शुक्ल ग्यारस )पर नहीं पहुंचे ओकारेश्वर श्रद्धालु एवं महिलाएं कोविड-19 के चलते प्रशासन द्वारा बनाए गए नियम के तहत श्री जी मंदिर संस्थान द्धारा टोकन के माध्यम से कराए गए पंजीयन श्रद्धालुओं को थर्मल स्क्रीन व तमाम जाँच के बाद दी जा रहीओकारेश्वर आने की दि अनुमति कोविड-19 के चलते नगरवासी एवं प्रशासन की सक्रियता के चलते तीर्थ नगरी ओकारेश्वर में अभी तक कोरोना पाजिटिव मरीज नहीं पाया गया जिसे बाबा की कृपा बता रहे हैं 3 माह से अधिक समय से नगर के ठप्प बड़े व्यापार से नगरवासी 


यो की आर्थिक व्यवस्था चरमरा गई है। किंतु सावन के चलते शासन की गाइड लाइन के अनुसार ओकारेश्वर मंदिर श्रद्धालुओं के दर्शन हेतु जरूर खोल दिए गए जिसमें मैं दो हजार लोगों से अधिक क्षद्धालुओ के प्रवेश पर प्रतिबंध कर दिया गया है शाम 7 बजे के बाद आने वाले भक्तों को 4 किलोमीटर दूर ही रोक दिया जा रहा है लगातार निमाड़ क्षेत्र में मिल रहे कोरोना पॉजिटिव के चलते प्रशासन और सख्त नजर आ रहा है इसी के चलते देवशयानी ग्यारस एवं गुरु पूर्णिमा श्रद्धालु एवं गुरु भक्त नहीं पहुंचा पाए नगर खाली पड़ा है प्रशासन ने बैठक में अपना रुख साफ कर दिया है जिसके चलते श्रद्धालुओं का ओकारेश्वर आना लगभग कम सा हो गया है। प्रतिनिधिमंडल ने व्यवसाय को लेकर कलेक्टर खंडवा से मुलाकात की अब देखना यह है कोविड-19 मैं सावन की व्यवस्थाओं के बीच प्रशासन व्यवसाय व्यापार के क्या निर्देश देता है


 बैठकों का दौर जारी __ पुनासा एसडीएम श्रीमती ममता खेडे ने कंट्रोल रूम मांधाता में कोविड-19 के चलते आगंतुक श्रद्धालु एवं नगर वासियों की सुरक्षा की दृष्टि से ओकारेश्वर के डॉ एवं मेडिकल स्वास्थ्य विभाग की टीम की बैठक ली जिसमें निजी प्रैक्टिस कर रहे डॉ सुरेंद्र बिर्ला. डॉं रतन सरकार .के अलावा नितिन भोई .अरुण जोशी . भोई सहित अन्य मेडिकल से लोग उपस्थित थे सभी को नगर में बाहर से आने वाले बीमारों सर्दी जुखाम से ग्रसित लोगों की सूची प्रतिदिन इलाज के लिए कितने आ रहे हैं थाना मांधाता व प्रशासन को नियमित देने के निर्देश दिए