अभा साहित्य परिषद का ऑनलाइन कवि सम्मेलन हुआ संपन्न

अखिल भारतीय साहित्य परिषद की महू इकाई द्वारा आज त्रिपुरारी लाल जी शर्मा अध्यक्ष अभा साहित्य परिषद मानव प्रांत के अध्यक्षता में सफल ऑ3नलाइन कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। सहभागी कवियों ने कारगिल विजय दिवस, राम मंदिर निर्माण,मां, सावन ऋतु आदि विषयों पर मधुर रचनाएं प्रस्तुत की ।कवि धीरेंद्र जोशी के सुंदर संचालन ने कवियों को एक सूत्र में बांधे रखा।


कवियों द्वारा प्रस्तुत रचनाओं की पंक्तियां इस प्रकार रही:-


त्रिपुरारी लाल शर्मा,-आई बरखा सावन की 


डॉक्टर गिरिजेश सक्सेना- देश की माटी को समर्पित सुमन मेरे  


विनोद सिंह गुर्जर -राम मेरे जनक पाठक हरना


 धीरेंद्र कुमार जोशी- सैनिक जाए सीमा पर, फर्ज निभाएं सीमा पर।


डॉ विमल सक्सेना- अमन है घर तो जंग का आगाज क्यों। बिंदु के पंचोली- मां की महिमा अनंत


दामोदर विरमाल- मां भारती ,मां भारती 


दशरथ सिंह ठाकुर -हाथों में बीता बचपन


विजय जोशी -जिंदगी पूछती रही


 गगन खरे -आई बरखा चारों ओर


 विजय पांडे- सखी सावन की कर लो तैयारी


अंत में अंत में महू इकाई के उपाध्यक्ष विनोद सिंह गुर्जर ने सब का आभार व्यक्त किया।