युवाओं के "यंग इंडिया यंग माइंड्स" ग्रुप ने कोरोना के समय की जरूरतमंद लोगों की मदद

 


विगत दो माह में पूरी दुनिया में कोरोना ( COVID-19) ने कोहराम मचा दिय, मौतों का अंबार , भूख से गरीबों का बुरा हाल, बेरोज़गारी, बच्चे बूढ़े जवान सभी इस समस्या से जूझ रहे है। इस कड़ी में हमरे क्षेत्र महु के युवाओं ने मिलकर यंग इंडिया यंग माइंड्स ग्रुप का गठन किया जिससे हमारी टीम को अपना दाईत्व निभाने का मौका मिला जिसके लिए दिनांक 9 मई 2020 को महू अनुविभागीय अधिकारी से अनुमति लेकर हमने प्रोजेक्ट "अर्पण" की पहल शुरू की जिसमें हमने मंगलवार दिनांक 19 मई 2020 से मुहिम शुरू की जिसमे हमने सर्वप्रथम क्षेत्र में सर्वे फॉर्म जारी किया जिसके माध्यम से पता लगाया कि कौन वास्तव में जरूरतमंद है साथ ही अपने आस पास के इलाकों में पता लगाया और गरीब, असहाय, निराश्रित, बेरोज़गार प्रवासी मजदूरों को खाद्य सामग्री का वितरण किया गया। समिति के संस्थापक एवं अध्यक्ष राहुल नायडू ने बताया हमरी टीम अपना पूरा योगदान देने के लिए तत्पर है और यह कार्य निरंतर जारी रहेगा लॉक डाउन समाप्त होने के बाद भी। यंग इंडिया यंग माइंड्स द्वारा महू शहर एवं ग्रामीण इलाकों में दिनांक 7 जून 2020 तक लगभग 200 से अधिक जरूरतमंद परिवारों को राहत सामग्री का वितरण किया गया। खाद्य सामग्री वितरण करते हुए हमें ये भी पता चला की लॉक डाउन लागू होने के पश्चात सरकार द्वारा जारी कि गई गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत सभी जरूरतमंद परिवारों को राशन सामग्री का वितरण किया जाना था फिर चाहे वह राशन कार्ड धारक हो या ना हो, परन्तु राशन सामग्री जरूरतमंदो तक नहीं पहुंच रही है, जिसके लिए हम प्रशासन से आग्रह करना चाहते है कि इस पर सख्त कार्रवाई की जाए एवं जरूरतमंदो तक राशन सामग्री पहुंचाई जाए। इस कार्य को सफल बनाने में सह संस्थापक आशीष कुमार कुशवाह, उपाध्यक्ष सिमरन स्वामी, कोषाध्यक्ष कुलदीप कुरील, मोहित चौहान, अजय चौधरी, पीयूष ठाकरे, निकिता शर्मा, नेहा अग्रवाल, सोनू वर्मा एवं अन्य कर्मठ सदस्यो ने तन, मन और धन से सहयोग किया।