लॉकडाउन के कारण चोरल में फंसी दो विदेशी महिलाएं, नहीं मिले पास तो उनका स्वदेश लौटना फिलहाल असंभव


लॉकडाउन के कारण चोरल में फंसी हैं दो विदेशी महिलाएं और योग सीखने आई महिलाओं को अगर आज पास नहीं मिले तो उनका स्वदेश लौटना फिलहाल असंभव हो जाएगा।


जर्मनी की  मार्गरेटा रिंगल और नीदरलैंड की सोफिया वान अपने मन में पड़े अरमान लेकर योग सीखने भारत आई थी । इसी उद्देश्य को लेकर वे खंडवा रोड पर चोरल रिवर व्यू प्वाइंट के पास हाल ही में बने  सत्यधारा योगा लाइफ आश्रम पर 16 मार्च को पहुंचे ।


कुछ ही दिनों में उन्हें कोरोनावायरस की समस्या के विश्व भर में भयावह रूप ले लेने के बारे में पता चला और 25 मार्च को हुए लॉकडाउन के कारण उनकी परेशानी बहुत बढ़ गई।


उनके योग गुरु डॉ राधेश्याम मिश्रा ने कोर्स को तीन हफ्तों में ही पूरा कर दिया पर उनकी परेशानी थी पहले इंदौर पहुंचना और फिर वहां से दिल्ली के लिए रवाना होना । इस समय सभी फ्लाइट्स बंद हैं पर उनके और उन जैसे कई अन्य यूरोपीय नागरिकों के लिए विशेष निवेदन पर यूरोपियन यूनियन ने एक फ्लाइट आज और एक सोमवार- मंगलवार की दरमियानी रात को दिल्ली से रवाना होने की विशेष व्यवस्था की है । अगर उनको पास आज रात तक नहीं मिले तो उनका स्वदेश लौटना फिलहाल असंभव हो जाएगा।


 विदेशी महिलाओं ने मध्य प्रदेश सरकार से निवेदन किया है और उन्हें उनके परिवारों के पास उनके देश पहुंचने में मदद करें।



टिप्पणियाँ
Popular posts
स्टेयरिंग फेल होने से घर में घुसी पिकअप, ड्राइवर की मौके पर ही मौत तीन घायल, - घटना के बाद ग्रामीणों ने स्टेट हाईवे पर लगाया जाम, वाहनों की लंबी कतार
चित्र
कोठीदा का मिट्टी वाला बांध हुआ लिकेज, एक दर्जन से अधीक ग्राम के लोग घबराए
चित्र
दोषियों पर कारवाई क्यो नही:, वीडियो से मिली डेम की लगी जानकारी जिम्मेदार अधिकारी को पानी रिसने की नही थी जानकारी, जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने उद्योग मंत्री दत्तीगांव के साथ किया मुआयना
चित्र
बाग में पटवारी की मिलीभगत से दूसरे जमीन घोटाले में भी केस दर्ज
चित्र
हर घर तिरंगफहराने की अलख जगाने हेतु निकाली सहकारिता तिरंगायात्रा
चित्र