इस्लाम पटेल को पकड़ा कनाडिया पुलिस ने

दाऊद,अब्बास व सत्तार को पूर्वजो से प्राप्त ग्राम खजराना स्थित उनके संयुक्त खाते की भूमियां का दिनांक 04/02/1980 को तहसील कार्यालय इंदौर से बंटवारा हो गया था उनके  बाद दाऊद के लडके इस्लाम, यासिन, व सत्तार ने वर्ष 2003-04 मे उक्त बंटवारे के खिलाफ एस.डी.ओ. न्यायालय इन्दौर मे अपील की जिसमे दिनांक 17/02/2004 तो तहसील न्यायालय इन्दौर द्वारा किया गया बंटवारा निरस्त कर दिया गया पुनः सम्पूर्ण भुमियां शामिलाती खाते की हो गई उसके बाद वर्ष 2005 मे दाऊद के वारिसान यासिन,इस्लाम, मलका बी वगैरह व सत्तार के वारिस मम्मू, रसीद, लतीफ , शहजाद, मुमताज वगैरह ने संयुक्त रुप से दिवानी न्यायालय में बंटवारे के लिये वाद क्रमांक 18-ए/05 सप्तम व्यवहार न्यायाधीश इन्दौर के न्यायालय मे प्रस्तुत किया गया जो आज दिनांक तक विचाराधीन है । जिसमे भूमि के मालिकाना हक का निराकरण होना है । लेकिन वर्ष 2010 मे न्यायालय द्वारा वाद निराकरण के पूर्व ही यासिन,इस्लाम, शकिना बी, सागर ,हमीदा,मलिका ने तहसील न्यायालय मे बंटवारे के लिये झूठी जानकारी दी कि हमारा किसी भी न्यायालय मे कोई केस नही चल रहा है और न ही कोई के स विचाराधीन है जबकि उस समय हायकोर्ट द्वारा याचिका क्रमांक 5968/2009  मे यथा स्थिति बनाये रखने के लिये सभी पक्षो को आदेश पारित किये थे फिर भी यासिन,इस्लाम, शकिना बी, सागर ,हमीदा,मलिका द्वारा षडयंत्र पूर्वक जमीन हडपने की नियत से फरियादी आजाद वगैरह के फर्जी हस्ताक्षर व फर्जी अंगूठा निशानी से तेहसील से जारी नोटिस की झूठी तामिली बताकर तहसील कार्यालय से मनमुताबिक एक तरफा बंटवारा आदेश पारित करा लिया जबकि शहजाद बी की वर्ष 2009 मे मृत्यु हो गई थी वर्ष 2010 मे उसे भी जीवित बताकर बंटवारा नोटिस की झूठी तामिली बताकर तहसील कार्यालय से बंटवारा करा लिया उसके बाद इन लोगो मे फर्जी बंटवारे के आधारपर अपने वारिसानो मे जमीन बाट दी और भू-अभिलेख मे बटाकन दर्ज करवा लिया गया तत्पश्चात प्रशान्त सागर बिल्डर को अनुबंध कर विवादित भूमि पर बहु मंजिला भवनो का निर्माण कर लिया । *फरियादी आजाद पटेल* के आवेदन पर से थाना कनाडिया इन्दौर मे *अपराध क्रमांक 09/20 धारा 420,467,468,471,120 बी, भादवि  का प्रकरण* पंजीबद्ध किया गया तभी से आरोपी इस्लाम पिता दाऊद पटेल गिरफ्तारी से बच रहा था उसे आज दिनांक 12/02/20 को श्रीमान डी.आई.जी महोदय रुचि वर्धन मिश्र के निर्देशन मे तथा  श्रीमान एस.पी.महोदय युसुफ कुरैशी के श्रीमान ए.एस.पी. महोदय राजेश रघुवंशी व श्रीमान सी.एस.पी.महोदय एस.के.एस. तोमर के मार्गदर्शन मे थाना प्रभारी कनाडिया आर.डी. कानवा व उनकी टीम द्वारा गिरफ्तार करने मे सफलता अर्जित की है