मां भगवती को प्रसन्न करने के लिए धुनीची नृत्य, सिल्वर स्प्रिंग टाउनशिप में चढ़ा गरबा का रंग


इंदौर । शहर की पूर्वी क्षेत्र स्थित सिल्वर स्प्रिंग टाउनशिप में नवरात्रि पर्व पर परम्परागत गरबा खेला जा रहा है। नवरात्रि के दूसरे दिन मां भगवती को प्रसन्न करने के लिए सोसाइटी की महिलाओं ने कोलकाता के प्रसिध्द धुनीची नृत्य किया। पिछले 2 माह से कॉरियाग्राफर को बुला कर महिलाओं ने नृत्य का प्रशिक्षण लिया। उसी में कुछ नृत्य नाटिका भी तैयार हुई।

पहले दिन नवदुर्गा नृत्य नाटिका देवी के आवाहन के रूप में प्रस्तुत हुई। टाउनशिप की महिलाओं और बालिकाओं के लाल रंग की थीम पर लाल वस्त्रों में तैयार रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन किया। नवदुर्गा के दूसरे दिन बंगाली थीम पर गरबा रखा गया। जिसे अर्चना गोयल द्वारा कोरियोग्राफ स्पेशल धुनीची नृत्य प्रस्तुत किया गया। इस धुनीची नृत्य प्रस्तुत करने वाली एक भी महिला बंगाली नहीं थी। इस नृत्य कोे दो चरणों मे प्रस्तुत किया। पहले चरण में आज कल के संगीत से सराबोर दुर्गा एलो गाने पर प्रस्तुति की गई। फिर पारंपरिक सफेद और लाल बंगाली साड़ी और सुंदर आभूषणों में सजी महिलाओं ने धुनिची नृत्य किया। प्रतिभागियों में से अलका दुबे ने बताया कि पिछले 10 वर्षों से गरबा उत्सव का आयोजन किया जा रहा है। कोरोना काल मे 2 वर्षों के अंतराल के बाद इस वर्ष भी गरबा उत्साह से मनाया जा रहा है। सिल्वर स्प्रिंग सोसायटी के नवनिर्वाचित अध्यक्ष देवेंद्र सिंह तोमर ने बताया कि वर्ष 2010 से गरबों का लगातार आयोजन किया जा रहा है। हर साल जैसे जैसे टाउनशिप की सदस्य संख्या बढ़ती रही वैसे वैसे गरबा करने वालों की संख्या बढ़ती गई। महिला सांस्कृतिक प्रकोष्ठ द्वारा यह गरबा नृत्य आयोजन किया जाता हैं। 



टिप्पणियाँ
Popular posts
पति ने उठाया खौफनाक कदम: धारदार हथियार से पत्नी की हत्या कर किया सुसाइड, जांच में जुटी पुलिस
चित्र
त्योहारों के मद्देनजर एसडीएम का चंद्रशेखर आजाद नगर में हुआ दौरा, झोलाछाप डॉक्टरों पर गिरी गाज
चित्र
कर्मसत्ता किसी को नहीं छोड़ती चाहे राजा हो या रंक --प्रिय लक्ष्णा श्री जी म सा
चित्र
मॉम्स ने बताए सर्दी से बचाव के तरीके
चित्र
ठेकेदार की लापरवाही भुगत रहे ग्रमीण, यह कैसा विकास ? ग्रामीणों को हर रोज करनी पड़ती है नाली की साफ सफाई जिम्मेदार सोए कुम्भकर्ण की नींद पानी की निकासी की व्यवस्था नहीं सड़क पर कीचड़ से निकलना तक मुश्किल गांव की सूरत बनाना तो दूर , जगह जगह पसरी गंदगी
चित्र