अखिल वैश्विक क्षत्रिय महासभा ट्रस्ट की बैठक धार में सम्पन्न, जिले के प्रतिष्ठित व्यवसायी व ट्रस्ट के राष्ट्रीय महासचिव विजय बहादुर सिंह "नन्हे ठाकुर" की अध्यक्षता में हुई

आशीष यादव, धार 

अखिल वैश्विक क्षत्रिय महासभा ट्रस्ट लंबे समय से समाज के उत्थान हेतु लामबंद है जिसके चलते देश भर में अनेक तरह के कार्य संगठन द्वारा किये जा रहे है इस तारतम्य में धार स्थित केवल श्री होटल में एक महत्वपूर्ण बैठक सम्पन्न हुई ! बैठक में सर्वप्रथम भगवान श्रीराम जी के चित्र पर माल्यार्पण किया गया एवं अतिथियों ने दीप प्रज्वल्लित कर बैठक प्रारंभ की गयी बैठक की अध्यक्षता संग़ठन के राष्ट्रीय महासचिव विजय बहादुर सिंह ठाकुर (नन्हे सिंह) ने की ! बैठक में मध्य प्रदेश में संगठन के विस्तार व समाज के आर्थिक रूप से कमजोर परिवारो के विद्यार्थियों को शिक्षा के मुख्य धारा से जोड़ने का प्रस्ताव पारित हुआ साथ ही पूरे देश मे आजादी का 75वां आजादी का अमृत महोत्सव बड़े हर्षोउल्लास से मनाया जा रहा है इसी तारतम्य में संगठन द्वारा आजादी की ७५वी वर्षगाठ "अमृत महोत्सव" के रूप में मनाने तथा राष्ट्रीय ध्वज का सर्वसमाज मे वितरण का निर्णय किया गया ! 

उक्त कार्यक्रम में राष्ट्रीय संगठन मंत्री डा. आनन्द सिंह, राष्ट्रीय युवा संगठन मंत्री अनमोल सिंह,प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष (उ. प्र.) पवन सिंह, प्रदेश संगठन मंत्री आलोक कुमार सिंह, मण्डल वरिष्ठ उपाध्यक्ष ईश्वर चन्द्र सिंह,मध्य प्रदेश अध्यक्ष योगेंद्र पाल सिंह,रीवा संभाग अध्यक्ष राजीव सिंह, ओबारा व्यवसायी विवेक सिंह, उ.प्र. व विहार के व्यवसायी अमित सिंह सहित धार से बैठक में धार कमल सिंह ठाकुर,शैलेन्द्र सिंह,अधिवक्ता सतीश ठाकुर,राजू सिंह,मुकेश रघुवंशी,आशीष ठाकुर,अमित सिंह ठाकुर,हर्षित रघुवंशी,शुभम ठाकुर,आयुष ठाकुर,आदित्य ठाकुर,शिवा सिंह ठाकुर,अमन सिंह ठाकुर,धनंजय ठाकुर,संतोष सिंह,सुनील सिंह,मंगल सिंह,अंतिम ठाकुर,रामप्रसाद सिंह,अनमोल सिंह आदि उपस्थित रहे ! 



टिप्पणियाँ
Popular posts
पति ने उठाया खौफनाक कदम: धारदार हथियार से पत्नी की हत्या कर किया सुसाइड, जांच में जुटी पुलिस
चित्र
त्योहारों के मद्देनजर एसडीएम का चंद्रशेखर आजाद नगर में हुआ दौरा, झोलाछाप डॉक्टरों पर गिरी गाज
चित्र
कर्मसत्ता किसी को नहीं छोड़ती चाहे राजा हो या रंक --प्रिय लक्ष्णा श्री जी म सा
चित्र
मॉम्स ने बताए सर्दी से बचाव के तरीके
चित्र
ठेकेदार की लापरवाही भुगत रहे ग्रमीण, यह कैसा विकास ? ग्रामीणों को हर रोज करनी पड़ती है नाली की साफ सफाई जिम्मेदार सोए कुम्भकर्ण की नींद पानी की निकासी की व्यवस्था नहीं सड़क पर कीचड़ से निकलना तक मुश्किल गांव की सूरत बनाना तो दूर , जगह जगह पसरी गंदगी
चित्र