नागदा-धार मार्ग पर आज से लगेगा टोल, सुविधा चाहिए तो चुकाना होगा टोल

आशीष यादव, धार 

मप्र सडक विभाग निगम ने टोल वसूली की सूची की तय 

कार, जीप से लेकर कृषि प्रयोजन में आने वाले वाहनों को मिली छूट 

धार-नागदा मार्ग से गुजरने वाले बडे वाहन चालकों को सोमवार सुबह 8 बजे से टोल टैक्स देकर गुजरना होगा, इसको लेकर मप्र सडक विभाग निगम के द्वारा संबंधित कंपनी को दो सालों तक टोल वसूली का टेंडर जारी करके दिया है। इस टेंडर के तहत कंपनी अपना टोल लगाकर वाहनों से वसूली करेगी, इसके एवज में संबंधित कंपनी सड़क की मरम्मत सहित रखरखाव का काम देखेंगे। हालांकि टोल सिर्फ बडे वाहनों से वसूला जाएगा तथा क्षेञ से 25 से 30 किलोमीटर के दायरे तक आने जाने वाले वाहनों को इस टाेल से छूट रहेगी। निगम के संभागीय प्रबंधक ने टोल वसूली शुरु होने की जानकारी जिला प्रशासन को भेजी है। साथ ही कंपनी के कर्मचारियों ने टोल केंद्र पर पहुंचकर अपनी आवश्यक तैयारी पूरी कर ली है। कल सुबह 8 बजे से वाहनों से टोल की वसूली शुरु हो जाएगाी। 

दरअसल पांच साल पहले नागदा-धार-गुजरी मार्ग का निर्माण किया गया था, इस दौरान धार से नागदा सड़क का निर्माण एशियन डेवलपमेंट बैंक की परियोजना के तहत किया गया। अब इस मार्ग के बनने के करीब साढ़े चार साल बाद धार-नागदा मार्ग के बीच ग्राम तोरनोद पर टोल वसूली शुरू हो जाएगी। इसको लेकर टोल प्लाजा बनकर तैयार हो गया है। जिसका संचालन मेमर्स निरंजन त्रिवेदी रतलाम के द्वारा किया जाएगा। इसके लिए दो वर्ष के लिए कंपनी से अनुबंध किया गया है। श्याम कुमार गुप्ता के अनुसार हल्के व्यावसायिक वाहनों से 35 रुपए, ट्रक से 80 रुपए व मल्टी एक्सल ट्रक से 165 रुपए का टोल वसूला जाएगा। साथ ही याञी वाहन, कार, बस, जीप, एंबुलेंस, फायर बिग्रेड से कोई वसूली नहीं की जाएगी। वहीं कृषि प्रयोजन के लिए उपयोग में आने वाले ट्रैक्टर, ट्राली सहित अन्य उपकरण वालों वाहनों को विशेष छूट भी दी गई है। इससे किसानों पर कोई अतिरिक्त बोझ नहीं बढेगा। 


परेशान होते है इस लिए नही आते वाहन इधर

बता दे जब से नागदा गुजरी मार्ग बना है कुछ समय इस रोड पर भारी वाहन आए क्यों के धार शहर के अंदर से यह रोड जाता है जिसके कारण इक्का-दुक्का दुर्घटना होने से बाईपास होते हुए नागदा गुजरी मार्ग पर किसे डायवर्ट किया था मगर वाहन चालकों को परेशानी एव पुलिस की कार्रवाई के डर से इस रोड पर बड़े वाहन आना बंद कर दिए वही मानपुर लेबड होते हुए नागदा होते हुए निकल जाते हैं जब से यह रोड बना है जब से भारी वाहन इस रोड पर ज्यादा समय नही निकले वही नियम अनुसार रोड पर भारी वाहन बंद नहीं कर सकते मगर अधिकांश वाहन चालकों को यही पता है कि इस रोड पर भारी वाहन नहीं जा सकते इसके कारण बड़े वाहन चालक इस ओर नहीं आते हैं अगर जिम्मेदार चाहे तो इस रोड पर बड़े वाहनों का आना जाना फिर से शुरू हो सकता है।


टोल के साथ मरम्मत भी जरूरी

करोड़ के नागदा गुजरी मार्ग बना है जब से इस मार्ग में सही से मरम्मत नहीं हो सकी वहीं बता दें कि ठेकेदारों की लापरवाही के कारण इस मार्ग में कहीं जगह दरारें चल गई है वह रोड पर सकेत बोर्ड भी नहीं है वहीं कई गांव में नालियां



अपूर्ण है इस और जिम्मेदार अधिकारी व जिम्मेदारी ठेकेदार के द्वारा समय पर ध्यान नहीं दिया जिसकी खामियाजा आज राहगीर भुगत रहे हैं अगर समय रहते हो ठेकेदार अब भी चाहे तो रोड पर मरम्मत व अन्य कार्य करवा सकता है जिसे राहगीरों को परेशान नही होना पड़ेगा। 


टिप्पणियाँ
Popular posts
स्टेयरिंग फेल होने से घर में घुसी पिकअप, ड्राइवर की मौके पर ही मौत तीन घायल, - घटना के बाद ग्रामीणों ने स्टेट हाईवे पर लगाया जाम, वाहनों की लंबी कतार
चित्र
कोठीदा का मिट्टी वाला बांध हुआ लिकेज, एक दर्जन से अधीक ग्राम के लोग घबराए
चित्र
तबाही का मंझर आंखों के सामने~~~ 2 दिन से चल रहा डेम में लीकेज सही करने का काम, बाँध को खाली करने की जा खुदाई में आ रही दिक्‍कत दोनों ओर बनाई जा रही चेनल
चित्र
दोषियों पर कारवाई क्यो नही:, वीडियो से मिली डेम की लगी जानकारी जिम्मेदार अधिकारी को पानी रिसने की नही थी जानकारी, जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने उद्योग मंत्री दत्तीगांव के साथ किया मुआयना
चित्र
बाग में पटवारी की मिलीभगत से दूसरे जमीन घोटाले में भी केस दर्ज
चित्र