मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना एवं स्वामित्व योजना के तहत पात्र हितग्राही हुए लाभंवित

 आशीष यादव, धार

 सरकार किसानों की आय, समृद्धि और खुशहाल जीवन के लिए लगातार प्रयासरत है- सांसद दरबार

खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए सरकार अनेकों योजनाऐं चला रही है- विधायक श्रीमती वर्मा

सभी पर्यावरण के प्रति सजग होकर पौध अवशय लागाए - श्रीमती पटेल

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना एवं स्वामित्व योजना के तहत पात्र हितग्राहियों को सिंगल क्लिक के माध्यम से राशि का वितरण वर्चुअली किया गया। जिला मुख्यालय पर यह कार्यक्रम पीजी कॉलेज के ऑडिटोरियम हॉल में आयोजित किया गया। जिले में किसान कल्याण योजना के तहत 2 लाख 27 हजार 301 किसानों को 45 करोड 46 लाख 2 हजार की राशि से लाभांवित किया गया। कार्यक्रम में प्रतिकात्मक रूप से किसान कल्याण योजना, स्वामित्व योजना, प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना के हितग्राहियों को लाभांवित किया गया। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कार्यक्रम का लाईव प्रसारण मौजूद लोगों ने देखा और सुना ।

कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों द्वारा मॉ सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्जवलन, मार्ल्यापण एवं कन्या पूजन कर किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सांसद छतर सिंह दरबार ने कहा कि केंद्र सरकार के साथ-साथ प्रदेश सरकार भी किसानों की हर संभव मदद का कार्य कर रही है। सरकार किसानों की आय, समृद्धि और खुशहाल जीवन के लिए लगातार प्रयासरत है। किसानों के हित के कार्यो से हर क्षेत्र में बदलाव आया है। उन्होंने कहा कि हमे जैविक खेती पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए। जिससे हमारी जमीन की उर्वरकता की क्षमता में भी वृद्धि होगी। हमें पर्यावरण को बचाने पर ध्यान देना चाहिए । स्कूली बच्चों को आज जो मुंग का वितरण किया जा रहा है उससे उनकी कार्यक्षमता में वृद्धि होगी और कुपोषण व अन्य बीमारियों से लड़ने की ताकत मिलेगी। अब आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र में महिलाए जागरूक होकर शासन की योजनाओं का लाभ लेकर परिवार की आर्थिक रूप से मदद कर रही विधायक श्रीमती नीना विक्रम वर्मा ने कहा कि आज सिंगल क्लिक के माध्यम से जिले के किसानों को लाभ मिला है। खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए सरकार अनेकों योजनाऐं चला रही है। हमार जिला ट्रायबल जिला है सरकार कुपोषण को दूर करने के लिए बच्चों को मुंग वितरित कर रही है। इसमें अनको लाभ है, इससे शरीर को पोष्टिक तत्व मिलते है। माताए सही मात्रा में यह बच्चों को मिले इसका ध्यान रखे और कुपोषण को दूर करें। उन्होंने कहा कि कृषक प्राकृतिक खेती की और अपने कदम बढ़ाए ताकि कुपोषण और बिमारियों से बचा जा सके। खेती में रासानिक उर्वरक का उपयोग न कर जैविक खेती को बढ़ाए। अपने पशुधन को बढ़ाए और खेती को लाभ का धंधा बनाकर योजनाओं का लाभ ले।  

जिला पंचायत अध्यक्ष ने कहा कि हम सब अब जैविक खेती पर ध्यान दें हम सभी को पता है कि बहुत सारी बिमारियॉ उर्वरक के कारण होती है। किसान अपनी मिटटी का परीक्षण करवाकर उसमें कृषि विभाग से सलाह लेकर उचित फसल लगाए और अपनी आय में वृद्धि करें। सभी पर्यावरण के प्रति सजग होकर पौध अवश्य लागाए।

इस अवसर पर डॉ पंकज जैन, पूर्व विधायक करण सिंह पंवार, नगर पालिका उपाध्यक्ष कालीचरण सोनवानिया, जिला पंचायत उपाध्यक्ष कल्याण पटेल, एसडीएम दीपाश्री गुप्ता, परियोजना अधिकारी जिला शहरी विकास अभिकरण नेहा शिवहरे सहित अन्य जनप्रतिनिधि व किसान मौजूद रहे। 




टिप्पणियाँ
Popular posts
दिगठान में कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन किया
चित्र
आधुनिक दौर के पँचायत चुनाव~ समय के साथ बदलते दौर में बदलते चुनाव तरीके से प्रचार कर रहे गांवों में सरपंच प्रत्याशी~ ग्रामीण इलाकों में बदला प्रचार करने का तरीका हर रोज आ रहे नए नुस्खे
चित्र
डॉक्टर डे पर की लोकायुक्त ने महिला डॉक्टर के साथ बनाया नर्स को भी आरोपी बनाया आरोपी, डिलीवरी कराने के नाम पर मांगे थे 8 हजार रुपये
चित्र
जलदेवता को मनाने नगर में निकाली जिंदा मुर्दे की शव यात्रा
चित्र
धार में दूसरे चरण का मतदान हुए सम्पन्न , 12 सो हजार पुलिसकर्मी केंद्रों पर तैनात, मतदान केंद्र पर लंबी कतार~~ शांतिपूर्ण हुए मतदान 77 प्रतिशत मतदान 3 लाख 32 हजार से अधिक मतदाता ने डाले वोट
चित्र