गैस टंकी में लीकेज से लगी आग, 2 साल का मासूम खेलते समय झुलसा, इंदौर में हुई उसकी मौत

 आशीष यादव, धार

पिता बचाने दौडा तो हाथ की चमड़ी जली  मासूम को कलेजे से लगाए मां 20 किलोमीटर दूर बाइक से अस्पताल लेकर पहुंची 

घर का सामान पूरी तरीके से जलकर हुआ खाक  डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद आग पर पाया काबू 

ग्राम कोठडा में स्थित घर में शनिवार सुबह के समय गैस की टंकी में अचानक लीकेज के बाद आग लग गई, टंकी के समीप ही खेल रहे मासूम को आग ने अपनी चपेट में ले लिया। इधर पिता घर के अंदर से धुआं उठता हुआ देखा तो तुरंत बच्चें को बचाने के लिए दौडा व उठाकर बाहर की ओर लेकर दौड़ा। पिता जैसे ही बच्चें को बाहर आया वैसे ही एक बडे धमाके के साथ विस्फोट हुआ व घर पूरी तरीके से जलकर खाक हो गया। घर के बाहरी हिस्से में एक किराना दुकान थी, ऐसे में आग के कारण किराना दुकान व घर में रखा घरेलू सामान पूरी तरीके से जलकर खाक हो गया। आग लगने का कारण अभी अज्ञात हैं, तथा आग से परिवार का करीब ढाई लाख रुपए का नुकसान हुआ है। इधर बच्चें को प्राथमिक उपचार के बाद इंदौर रेफर किया गया था, जहां शाम के समय बच्चें की मौत हो गई है। 

पिता बना रहा था रोटी, लगी आग  

प्राप्त जानकारी के अनुसार तिरला ब्लॉक अंतर्गत ग्राम कोठडा में सुबह के समय शोभाराम अपने घर पर रोटी बना रहा था, शोभाराम की पत्नी लक्ष्मीबाई गांव में ही गेहूं काटने के लिए मजदूरी पर अपने तीन बच्चों को लेकर गई थी। घर पर शोभाराम व उसका दो साल का बेटा अरविंद ही घर पर था। इसी बीच रोटी बनाते हुए किराने की दुकान पर ग्राहक आया, जिसे सामान देने के लिए शोभाराम गैस चूल्हा चालू छोड़कर बाहर की ओर गया। इसी बीच अचानक आग लगी व दो साल के मासूम को आग ने अपनी चपेट में ले लिया। पिता शोभाराम ने घर के अंदर कमरे में से धुआ उठता हुआ देखा, तो तुरंत बच्चें को बचाने के लिए दौडा। 

बाइक से लेकर आए धार 

आग लगने के बाद हुए ब्लास्ट से घर का सामान पूरी तरीके से जलकर खाक हो गया, घर पर लगी आग की सूचना पर बच्चें की मां तुरंत खेत से घर आई व देवर भरमलाल की बाइक पर लक्ष्मी अपने दो साल के मासूम को कलेजे से लगाकर बैठी। तथा 20 किलोमीटर दूर बाइक से सफर करके परिजन धार पहुंचे, जहां पर प्राथमिक उपचार के बाद बच्चें को धार में भर्ती कर लिया गया। इधर हादसे की सूचना पर कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने नायब तहसीलदार को अस्पताल भेजा व बच्चें के स्वास्थ्य की जानकारी ली है। 

पाइप से डाला पानी, फिर आई फायर वाहन 

बच्चें के पिता शोभाराम ने बताया कि अचानक आग व धुआं देखा तो अरविंद को बचाने दौडा, बच्चा चिल्ला रहा था व आग बढ रही थी। जैसे ही बच्चें को बाहर लेकर आया वैसे ही आग बढी व विस्फोट हो गया। ग्रामीणों ने तुरंत मोटर पाइप के माध्यम से आग पर काबू पाने की कोशिश की, किंतु आग बढ़ती ही गई। जिसके बाद धार व मांडू से फायर वाहन मौके पर पहुंचा, तथा डेढ घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया, हालांकि पिता आग बूझने तक घर के बाहर की ग्रामीणों के साथ रहा व बेटे को देवर व पत्नी के साथ अरविंद की जिंदगी बचाने के लिए बाइक से अस्पताल भेजा था। 

70 प्रतिशत जल चुका अरविंद 

अस्पताल से प्राप्त जानकारी के अनुसार अरविंद के सिर के नीचे का हिस्सा पूरी तरीके से जल चुका हैं, बच्चा करीब 70 प्रतिशत तक आग के कारण झुलस गया है। ऐसे में बच्चें को गंभीर स्थिति के चलते ही बच्चों के आईसीयू में भर्ती करने के कुछ देर बाद बच्चें को इंदौर भेजा गया था, जहां उसकी मौत हो गई है। वही घटना के बाद  कलेक्टर डॉक्टर पंकज जैन ने पीड़ित परिवार के लिए रेड क्रॉस से 20 हज़ार रुपए की सहायता स्वीकृत की है। इसके अलावा अंत्येष्टि सहायता के पाँच हज़ार रुपए स्वीकृत किए गए है। परिवार को एक माह का राशन भी प्रदान किया जा रहा है। 




टिप्पणियाँ
Popular posts
*धरती माँ की प्यास बुझाने के लिए महु में होंगा हलमा*
चित्र
तिरला पुलिस के 3 दिन के रिमांड पर भू कारोबारी भोला तिवारी, जमीन खरीदी में धोखाधड़ी के मामले में महिला की शिकायत पर दर्ज हुआ था प्रकरण
चित्र
प्रेशर से फीस मांग नहीं सकते,छात्रवृत्ति मिली आधी रोकस ने थमा दिए 1 करोड़ चुकाने के नोटिस, मुश्किल में 12 नर्सिंग कॉलेज के संचालक, कोविड काल में ट्रेनिग की राशि मांग
चित्र
अलीराजपुर जिले की स्थापना दिवस पर चंद्रशेखर आजाद नगर में गौरव रैली का आयोजन
चित्र
नगर परिषद के वार्ड 04, 11, 13,14, 06 में करोड़ो की लागत से बनने वाले सीसी व पहुच मार्ग का सांसद ,विधायक , नगर परिषद अध्यक्षा ने किया भूमि पूजन
चित्र