श्रीमती दाखाबाई रूनवाल का स्वर्गवास, अंतिम यात्रा 22 दिसंबर को~यशवंत जैन

 श्रीमती दाखाबाई रूनवाल का स्वर्गावास, अंतिम यात्रा 22 दिसंबर, बुधवार को निकाली जाएगी

झाबुआ। जैन श्वेतांबर श्री संघ की वरिष्ठ सुश्राविका एवं राजेंद्र रुनवाल की माताजी तथा संतोष, मुकेश रुनवाल की काकीसा और अजय, गोरव, क्रिस, अंकित रुनवाल की दादीजी श्रीमती दाखाबाई रुनवाल का 21 दिसंबर, मंगलवार को स्वर्गावास हो गया।

दाखाबाई स्व. श्री गेंदालाल रुनवाल की धर्मपत्नि होकर हमेशा धर्म-कर्म में लीन रहती थी। अंतिम यात्रा 22 दिसंबर, बुधवार को सुबह 10 बजे निवास स्थान रूनवाल बाजार झाबुआ से निकाली जाएगी। अंतिम संस्कार गैल स्थित मुक्तिधाम पर होगा। उनका स्वर्गावास रूनवाल परिवार सहित श्वेतांबर जैन श्री संघ झाबुआ के लिए भी अपूरणीय क्षति है। स्व. दाखाबाई के स्वर्गावास पर सकल जैन समाज के साथ शहर के व्यापारियों और गणमान्यजनों ने भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की है।

फोटो 008 -ः स्व. दाखाबाई रूनवाल।