इंद्रपुरी कॉलोनी सहित कई कालोनियों में डेंगू फैलने का खतरा

 प्रिय पाठक न्यूज़ सर्विस से साभार

-------------------------------- 

*पीडब्ल्यूडी की घोर लापरवाही .... इंद्रपुरी कॉलोनी सहित कई कालोनियों में डेंगू फैलने का खतरा ...*

*दहशत में जी रहे हैं यहां के लोग ...!* 

*महू, ०१ अक्टूबर। बारिश तीन दिन से नहीं है मगर किशनगंज की कई कालोनियों को लोक निर्माण विभाग की कारस्तानी ने संकट में डाल दिया है। यहाँ नाली निर्माण अधूरा छोड़ देने से सब जगह पानी भर गया है जिसमें रुके पानी में मच्छर करोड़ों की संख्या में हो गए हैं।*  

समाजसेवी रहवासी सुनील रावत ने प्रिय पाठक को क्षेत्र की खौफनाक तस्वीरों, वीडियो क्लिप से अवगत कराते हुए बताया कि पीडब्ल्यूडी द्वारा नाली निर्माण का कार्य कई दिनों से अधूरा छोड़ दिया है। एसडीएम अभिलाष मिश्रा के जाते ही विभाग ने लापरवाही पाल ली। जिसके कारण बारिश के पानी के जलभराव की समस्या से लोगों को छुटकारा नहीं मिल रहा है। अलग-अलग स्थानों पर भरा पानी एकत्रित होकर लोगों को डराने के लिए मजबूर कर रहा है। *महू में इस समय डेंगू का प्रकोप है ऐसे में ये भरा पानी जानलेवा सिद्ध हो रहा है।* लोग खौफ के साए में जी रहे हैं कि कहीं उनके बच्चों को डेंगू ना हो जाए। ऐसे अधिकारियों को जो इस तरह की लापरवाही कर रहे हैं इनके खिलाफ सख्त से सख्त एक्शन प्रशासन को लेना चाहिए। जहां पर रोड नहीं है पानी की निकासी का इंतजाम नहीं है, जिससे कि जलभराव की समस्या निरंतर बनी हुई है। इस क्षेत्र के रहवासी बेहाल होते नजर आएंगे जिसकी की सारी जिम्मेदारी महू के पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों की होगी?

*महू विधायक मंत्री उषा ठाकुर और एसडीएम अक्षत जैन को इस मामले को संज्ञान लेने की आवश्यकता है*, कि आखिर इतनी लापरवाही क्यों पाली गई और इसका पानी का निकास विभाग द्वारा क्यों नहीं किया जा रहा है। 




Popular posts
देवभूमि उत्तराखण्ड के एक वीर सपूत का देवलोक गमन
चित्र
सांसद पत्नी सूरज डामोर व नगर परिषद अध्यक्षा निर्मला डावर लगातार ग्रामीण क्षेत्र में महिलाओं से हो रहीं वोटिंग के लिए रुबरु~यशवंत जैन
चित्र
औद्योगिक क्षेत्र पीथमपुर के युवा तरुणाई शुभम पाराशर का जन्म दिवस मनाया गया धूमधाम से
चित्र
रामचरित्र मानस पर आधारित प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का हुआ आंबेडकर विश्वविद्यालय में आयोजन, कई महान विभूतियों ने लिया भाग
चित्र
अम्बेडकर विश्वविद्यालय का ‘नक्सल ऑपरेशन एंड लेसन्स’ विषय पर राष्ट्रीय परिसंवाद का आयोजन
चित्र