नर्मदा जयंती महोत्सव का शुभारंभ - ललित दुबे

ओकारेश्वर ( ललित दुबे )पुण्य सलिला मां नर्मदा के तट ज्योतिर्लिंग ओकारेश्वर की नगरी में नर्मदा जयंती महोत्सव का शुभारंभ 12 फरवरी से 19 फरवरी तक आयोजित किया जाएगा। इसको लेकर जय मां नर्मदा युवा संगठन एवं सामाजिक संगठन संत समाज नर्मदा प्रेमियों द्वारा संपूर्ण घाटों पर नर्मदा जयंती पूजन अमृता अभिषेक वैदिक ब्राह्मणों के गगनभेदी मंत्रोच्चार के साथ प्रारंभ किया। स्थानीय प्रशासन के द्वारा माकूल व्यवस्थाओं के इंतजाम घाटों पर प्रमुख मार्गों पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर किए गए। ओकारेश्वर के नागरिकों ने बढ़ती यातायात व्यवस्थाओं को लेकर कलेक्टर खंडवा एवं पुलिस अधीक्षक को यातायात व्यवस्था सुचारू रूप से किए जाने के सुझाव दिए आए दिन ओकारेश्वर के प्रमुख मार्गों पर जाम के कारण विवाद की स्थिति से भी अवगत कराया श्रीजी ज्योतिर्लिंग मंदिर ट्रस्ट के द्वारा कोटि तीर्थ घाट चक्रतीर्थ घाट समिति गोमुख घाट पर महंत धर्मेंद्र पुरी एवं नर्मदा के भक्तों के द्वारा पूजन अभिषेक तथा जाट धर्मशाला के नीचे नाव घाट पर जय मां नर्मदा युवा संगठन के वैदिक ब्राह्मणों द्वारा एवं अभय घाट पर मारकंडेश्वर आश्रम नागर घाट पर स्वामी श्री सच्चिदानंद गिरी जी महाराज बर्फानी आश्रम में महंत हनुमान दास व अन्य घाटों पर संत समाज एवं नर्मदा प्रेमियों द्वारा मां नर्मदा की पूजन प्रारंभ की 19 फरवरी को नर्मदा जी के मुख्य दिवस दिनभर धार्मिक आयोजन 251 लीटर दूध से अभिषेक महा काकड़ आरती एवं असंख्य दीपों से दीपदान का कार्यक्रम होगा खंडवा जिला प्रशासन द्वारा व्यवस्थाओं को लेकर पुनासा एसडीएम चंद्र सिंह सोलंकी को चाक चौबंद व्यवस्था ओं किए जाने के निर्देश दिए गए यातायात व्यवस्था सुचारू रूप से किए जाने के लिए थाना प्रभारी शिवराम जामरे व अमले द्वारा व्यवस्था की जा रही है



Popular posts
आंबेडकर विश्वविद्यालय, महू की "बाबू जगजीवन राम पीठ" के प्रोफेसर के रूप में डॉ शैलेंद्र मणि त्रिपाठी ने किया अपना कार्यभार ग्रहण
चित्र
अम्बेडकर विश्वविद्यालय, महू में भक्तिमयी शबरी पर कार्यक्रम का मंचन
चित्र
रामचरित्र मानस पर आधारित प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का हुआ आंबेडकर विश्वविद्यालय में आयोजन, कई महान विभूतियों ने लिया भाग
चित्र
शक्ति उपासना राष्ट्रीय कवि सम्मेलन के आयोजन को लेकर डा. दवे के नेतृत्व वाले दल ने लिया जायजा
चित्र
विश्व हिंदू परिषद जिला महू की मातृशक्ति-दुर्गा वाहिनी द्वारा शस्त्र पूजन, महाआरती का किया गया आयोजन
चित्र