अयोध्या में रामलला के साथ सम्राट विक्रमादित्य को भी किया जा रहा है याद- नरेंद्र सिंह पवार


खुशी और प्रसन्नता हो रही है कि दो हजार वर्ष के उपरांत भी महान् परमार/पँवार शासक चक्रवर्ती सम्राट वीर विक्रमादित्य महाराज (उज्जैनीय) को याद किया जा रहा है। पेपर कटिंग से स्पष्ट हो रहा है कि महराज विक्रमादित्य ने अयोध्या में केवल प्रभुश्री राम का ही मंदिर नहीं बनाया था बल्कि 360 मंदिर बनवाए थे। वामपंथी इतिहासकारों जिस विक्रमादित्य महाराज को काल्पनिक बताने में कोई कोरकसर बाकि नहीं रखी थी आज वो ही विक्रमादित्य प्रभु श्रीराम के साथ याद किए जा रहे हैं। कभी प्रभु श्रीराम की जन्मभूमि का उद्धार करने.वाले महाराजा विक्रमादित्य का भी उद्घार अयोध्या में होगा या नहीं?


-------- नरेन्द्रसिंह पँवार, गढ़ी भैंसोला


राष्ट्रीय अध्यक्ष


राजा भोज जनकल्याण सेवा समिति, रतलाम, मालवा।


Popular posts
आंबेडकर विश्वविद्यालय, महू की "बाबू जगजीवन राम पीठ" के प्रोफेसर के रूप में डॉ शैलेंद्र मणि त्रिपाठी ने किया अपना कार्यभार ग्रहण
चित्र
रामचरित्र मानस पर आधारित प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का हुआ आंबेडकर विश्वविद्यालय में आयोजन, कई महान विभूतियों ने लिया भाग
चित्र
अम्बेडकर विश्वविद्यालय, महू में भक्तिमयी शबरी पर कार्यक्रम का मंचन
चित्र
विश्व हिंदू परिषद जिला महू की मातृशक्ति-दुर्गा वाहिनी द्वारा शस्त्र पूजन, महाआरती का किया गया आयोजन
चित्र
शक्ति उपासना राष्ट्रीय कवि सम्मेलन के आयोजन को लेकर डा. दवे के नेतृत्व वाले दल ने लिया जायजा
चित्र