ओंकारेश्वर में 16 जून से भक्तों के लिए हुई दर्शन की व्यवस्था

ओंकारेश्वर ( ललित दुबे ) मध्य प्रदेश शासन के निर्देश पर ज्योतिर्लिंग भगवान ओकारेश्वर ममलेश्वर मंदिर 16 जून से भक्तों के लिए दर्शन हेतु खोले जा रहे हैं जिसमें शासन की गाइड लाइन बनाई गई है उसके अनुरूप भक्तों को दर्शन होंगे। खंडवा कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक के द्वारा पूर्व में ली गई बैठक मैं लिए गए निर्णय के तहत तीर्थ नगरी ओकारेश्वर में लगभग 3 माह के बाद कोविड-19 वैश्विक महामारी के चलते बंद हुए ममलेश्वर ओकारेश्वर मंदिर 16 जून से शासन की गाइड लाइन के अनुसार खुलने के निर्देश पुनासा एसडीओ श्रीमती ममता खेडे ने देते हुए बताया कि श्रीजी मंदिर ट्रस्ट के कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया गया है भक्तों की सुविधा के लिए काउंटर बनाए गए हैं दर्शनों में असुविधा ना हो इसके लिए ओम्कारेश्वर ज्योतिर्लिंग की वेबसाइट एवं मोबाइल नंबर 7617238888 "9406865628 जारी किए हैं उन पर भी कॉल करके दर्शन की सुविधा का लाभ बुकिंग के माध्यम से लेने की सुविधा की गई है एवं भारतीय पुरातत्व विभाग के अधीन ज्योतिर्लिंग ममलेश्वर मंदिर पुजारियों मंगल सिंह सोलंकी को ममलेश्वर मंदिर पहुंच कर पुनासा एसडीएम श्रीमती ममता खेडे तहसीलदार उदय मंडलोई ने मंदिर परिसर पहुंचकर मंदिरों का अवलोकन किया मंदिर के कर्मचारियों को दिशा निर्देश देते हुए मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं को टोकन सिस्टम सोशल डिस्टेंस का पालन करना मार्क्स लगाना आदि निर्देशों के तहत मंदिर खोलने के निर्देश दिए तथा अधीनस्थ अधिकारी कर्मचारियों को समझाइश दी 10 फिट दूर से आने वाले भक्तों दर्शन करेंगे मंदिर परिसर का अवलोकन किया गया मंदिर गर्भगृह से 10 फीट दूर से मंदिर दर्शन कराए जाएंगे शासन की गाइड लाइन के अनुसार पालन नहीं किए जाने वालों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई करने की बात भी अधिकारियों ने कही ओकारेश्वर मंदिर के लिए टोकन सिस्टम की व्यवस्था मंदिर ट्रस्ट द्वारा की गई है एसडीएम खेडे ने कहा कि दोनों मंदिरों में गर्भ ग्रह के अंदर प्रवेश पूरी तरह प्रतिबंध है मंदिर में अभिषेक पूजन पूजन सामग्री चढ़ाना प्रतिबंध रहेगा मंदिर के आसपास क्षेत्र में भी सुरक्षा की दृष्टि से सारी व्यवस्थाएं की गई है मंदिर मैं अभिषेक पूजन के साथ अनावश्यक लोगों का बैठना पंडे पुजारियों को मंदिर में बैठने आदि पर भी पूरी तरह शक्ति लगाई गई है थानाप्रभारी जगदीश पाटीदार ने बताया कि शासन की गाइडलाइन का पालन करते हुए सीसीटीवी कैमरे से कन्ट्रोल रूम मांधाता के माध्यम से पुलिस द्वारा निगरानी की जाएगी विशेष स्थानों पर चौकियां बनाई गई है वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर मंदिर एवं नगर में चाक-चौबंद व्यवस्थाओं के इंतजाम किए गए