व्हाट्सएप ग्रुप पर गलत अफवाह फैलाने वाले को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

इंदौर क्राइम ब्रांच की एक और कार्रवाई व्हाट्सएप ग्रुप पर गलत अफवाह फैलाने वाले आरिफ नामक युवक को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार खजराना का रहने वाला है आरिफ दो व्हाट्सएप ग्रुप पर गलत इंजेक्शन लगाने की फैला रहा था अफवाह I


★ व्हाट्सअप ग्रुप में भड़काऊ msg पोस्ट/शेयर करने वाला आरोपी क्राइम ब्रांच इंदौर की गिरफ्त में।


★ साम्प्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने के उद्देश्य से उन्मादी तथा भड़काऊ मेसेज व्हाट्सअप पर प्रसारित कर रहा था आरोपी।


★ मैसेज शेयर करने वाले के साथ ही ग्रुप एडमिन पर भी की गई कार्यवाही।


★ IT act और भादवि की धाराओं के तहत किया गया प्रकरण पंजीबद्ध।


★ वैश्विक महामारी कोरोना के संदर्भ में लोगों को भड़काने के लिए भेज रहे थे उन्माद फैलाने वाले मैसेज।



इंदौर क्राइम ब्रांच द्वारा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर सतत निगरानी रखी जा रही है जिसमे अफवाह तथा लोगों को भड़काने के उद्देश्य से उन्मादी/साम्प्रदायिक अथवा भड़काऊ msg को पोस्ट या शेयर करने वालों के विरुद्ध सख्ती से कार्यवाही की जा रही है। समय समय पर अफवाहों के सम्प्रेषण को रोकने के लिए इंदौर पुलिस द्वारा विभिन्न एडवाइजरी जारी कर आमजन को सचेत किया जाता रहा है किंतु सतत कुछ असामाजिक तत्व, अफवाहों के प्रसारण में लीन है जिन पर क्राइम ब्रांच बारीकी से निगाह रखकर कार्यवाही कर रही है।


सोशल मीडिया मोनिटरिंग के दौरान क्राइम ब्रांच की टीम को विदित हुआ था कि व्हाट्सअप ग्रुप में कुछ लोगों  द्वारा कोरोना वायरस के संदर्भ में कुछ अफवाह स्वरूप,  आपत्तिजनक तथा धार्मिक भावनाओं को उत्तेजित करने सम्बन्धी लेख शेयर किये गए हैं। इन पर त्वरित कार्यवाही करते हुए कई सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर ऐसे मैसेज को डिलीट कराया गया था किन्तु कुछ लोगों द्वारा दुराशय पूर्वक ऐसे मेसेज प्रसारित कर आमजन में भय व्याप्त करने सम्बन्धी दुष्कृत्य किया गया।



क्राइम ब्रांच की टीम ने, तकनीकी जानकारी के आधार पर, ऐसे तत्वों की पहचान सुनिश्चित की जिसमे गत दिवस थाना सदर बाजार में आरोपी को गिरफ्तार कर प्रकरण पंजीबद्ध किया गया था साथ ही उसके ग्रुप एडमिन पर भी कार्यवाही की थी। 


टीम ने पतासाजी कर इसी अनुक्रम में ऐसे भड़काऊ मेसेज वायरल करने वाले आरोपियों के सम्बंध में कड़ी से कड़ी जोड़कर कुछ अन्य आरोपियों की पहचान सुनिश्चित की जिसमे आज टीम ने आज आरोपी आरिफ पिता कल्लू उम्र 26 वर्ष निवासी अशरफी कोलोनी खजराना इंदौर को पकड़ा जिसके विरुद्ध थाना खजराना में मामला पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। प्रकरण में व्हाट्सअप ग्रुप एडमिन आरोपी रिजवान निवासी कन्नौद अभी फरार है जिसकी सरगर्मी से तलाश की जा रही है। आरोपियों के विरुद्ध 295-A,  505 IPC और 67 IT एक्ट के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया  है।



आगे भी कड़ी से कड़ी जोड़कर क्राइम ब्रांच ऐसे msg वायरल करने वालो की पहचान सुनिश्चित कर उनके विरुद्ध सख्त कानूनी कार्यवाही करेगी।


इंदौर क्राइम ब्रांच आमजन से अपील करती है कि किसी भी प्रकार की अपुष्ट खबरों अथबा अफवाहों पर भरोसा ना करें, ना ही ऐसी अफवाहों को प्रसारित करें अन्यथा आपके विरुद्ध कानूनी कार्यवाही की जाएगी। यदि आपके संज्ञान में कोई ऐसा अप्पत्तिजनक मैसेज आता है जिससे कानून व्यवस्था की स्तिथि प्रभावित होती हो शीघ्र इंदौर पुलिस के हेल्पलाइन नम्बर 7049124444, 7049124445 पर सूचित करें। आपकी पहचान गोपनीय रखी जायेगी।