प्रशासनिक अधिकारियों ने अंबेडकर जन्म भूमि पर रात को पहुंचकर जलाई कैंडल और दी श्रद्धांजलि

 कोरोना वायरस के कहर के कारण इस बार अंबेडकर जन्म भूमि 14 अप्रैल यानी उनकी जयंती पर सूनी रहेगी। हर बार जहां हजारों लोग दूर-दूर से यहां पहुंचते थे बाबा साहब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर को अपनी श्रद्धांजलि देने, इस बार नहीं पहुंच पाएंगे।


पर भारत के महान सपूत को श्रद्धांजलि देने का कार्यक्रम सरकारी तौर पर आधिकारिक रूप से कल रात को भी हुआ और आज भी औपचारिक कार्यक्रम का आयोजन होगा। हालांकि कोरोना को देखते हुए आम लोगों का वहां पहुंचना वर्जित है पर शासकीय अधिकारी ही माल्यार्पण करके बाबा साहब को श्रद्धांजलि देंगे।


देखें रात का फोटो



 


टिप्पणियाँ
Popular posts
स्टेयरिंग फेल होने से घर में घुसी पिकअप, ड्राइवर की मौके पर ही मौत तीन घायल, - घटना के बाद ग्रामीणों ने स्टेट हाईवे पर लगाया जाम, वाहनों की लंबी कतार
चित्र
कोठीदा का मिट्टी वाला बांध हुआ लिकेज, एक दर्जन से अधीक ग्राम के लोग घबराए
चित्र
तबाही का मंझर आंखों के सामने~~~ 2 दिन से चल रहा डेम में लीकेज सही करने का काम, बाँध को खाली करने की जा खुदाई में आ रही दिक्‍कत दोनों ओर बनाई जा रही चेनल
चित्र
दोषियों पर कारवाई क्यो नही:, वीडियो से मिली डेम की लगी जानकारी जिम्मेदार अधिकारी को पानी रिसने की नही थी जानकारी, जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने उद्योग मंत्री दत्तीगांव के साथ किया मुआयना
चित्र
बाग में पटवारी की मिलीभगत से दूसरे जमीन घोटाले में भी केस दर्ज
चित्र