बड़ों की मत सुनो पर इन बच्चों की अपील तो आप सबको सुनी ही होगी-. मुद्दा है कोरोनावायरस

इस समय देश एक ऐसे दौर से गुजर रहा है जब देश के प्रधानमंत्री से लेकर मुख्यमंत्री और हर जिले के और तहसील के अधिकारी लोगों से अपील कर रहे हैं कि वे अपने घरों में ही रहे और अधिक से अधिक आइसोलेशन पर ध्यान दें। क्योंकि कोरोना वायरस नाम का की बीमारी ना तो किसी की जाति पूछती है ना ही मजहब, यह बहुत ही गंभीर बीमारी है जो संक्रमण से फैलती है।


ऐसी स्थिति में जब बड़े बड़े लोगों की बातें पब्लिक मानने को तैयार नहीं है तब छोटे-छोटे बच्चों को ऐसा लग रहा है कि अब उनको ही मैदान में आना पड़ेगा। ऐसे ही 2 बच्चे सारा अशाज़ जो महू निवासी जावेद भाई और डॉ रूबीना के पुत्र और पुत्री हैँ, अपनी पेंटिंग के माध्यम से आप सब से अपील की है कि इस बीमारी को सीरियसली ले और बचाव पर ध्यान दें।