मप्रपक्षेविविकं मालवा –निमाड़ के नए उद्योगों को बिजली बिल में 10 माह में दी 74.38 करोड़ की छूट

मप्रपक्षेविविकं मालवा –निमाड़ के नए उद्योगों को बिजली बिल में 10 माह में दी 74.38 करोड़ की छूट


- हर माह दे रहे छूट के आवेदनों पर मंजूरी


इंदौर। नए उद्योगों प्रोत्साहित करने की भावना के साथ शासन एवं मप्र विद्युत नियामक आयोग के अनुसार मप्रपक्षेविविकं बिजली बिलों पर छूट प्रदान कर रही है। मालवा और निमाड़ में स्थित इन नए उद्योगों को हर माह सात से आठ करोड़ की छूट दे रही है। वित्तीय वर्ष के जनवरी में समाप्त 10 माह के दौरान उद्योगों को ग्रीन फील्ड नाम से एवं हर माह खुलते जा रहे नए उद्योगों को   रियायत प्रदान की गई है। दस माह में यह रियायत राशि 74.38 करोड़ है।


मप्रपक्षेविविकं के प्रबंध निदेशक श्री विकास नरवाल ने बताया कि ऊर्जामंत्री श्री प्रियव्रत सिंह के निर्देशानुसार उद्योगों को उच्चदाब कनेक्शन तत्काल देने की लिए सेल गठित है, जो उद्योगपतियों से सतत संवाद रखती है, एवं नियमानुसार रियायत देने की कार्यवाई करती है। ग्रीन फील्ड के नाम से 178 उद्योगों को एवं हाल में खुले नए 46 उद्योगों को एक रूपए यूनिट की छूट दी जा रही है। जनवरी 2020 में कुल 224 उद्योगों को छूट प्रदान की गई, यह छूट लगभग 7 करोड़ रूपए की रही। श्री नरवाल ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में दस माह में औसतन हर माह 224 उद्योगों को अब तक करीब कुल 74.38 करोड़ की छूट दी गई है। नए उद्योगों को छूट रिबेट फार न्यू एचटी कनेक्शन नाम से एवं कुछ समय पहले लगे उद्योगों को ग्रीन फील्ड नाम से छूट प्रदान की जा रही है। श्री नरवाल ने बताया कि सभी सर्कलों के अधीक्षण यंत्री परीक्षण उपरांत छूट की मंजूरी प्रदान कर रहे है। यह छूट मार्च 2022 तक मिलती रहेगी।