मंत्री जी सुशासन के लिए, दागी और सरकार की बदनामी करने वाले आबकारी अफसर को भोपाल पदस्थ करने की तैयारी में

बार-बार सरकार के लिए मुसीबत खड़ी करने वाले अफसर को फिल्ड में पदस्थ करने के पीछे सरकार की क्या मजबूरी ?


PS के पास पहुँची नोटशीट


जिस आबकारी अफसर की लापरवाही के कारण इंदौर में आरोपी शराब ठेकेदारों ने 42 करोड़ का बैंक चालान फर्जीवाड़ा करके, सरकार को राजस्व की भारी हानि पहुँचाई, जिस अफसर का कथित आडियो वायरल हुआ, उस आडियो में कमलनाथ सरकार के मंत्रियों और विधायकों पर शराब ठेकेदारों से मोटी मासिक बंदी वसूल करने के आरोप लगाए, इसके पहले इसी दागी आबकारी एसी की पोस्टिंग को लेकर विधानसभा में हंगामा मचा । ऐसे दागी आबकारी एसी को भोपाल पदस्थ करने के लिए वाणिज्यिक कर मंत्री जी ने नोटशीट, PS के पास भेजी है । इन स्थितियों में भी एसी संजीव दूबे को, जो भाजपा के कार्यकाल में भी, अच्छे जिलों में पदस्थ रहे, उनको लेकर चर्चा है कि, वर्तमान कमलनाथ सरकार इतने अच्छे काम करने के बाद, उतने ही बदनाम अफसर को, शायद सुशासन में, एक बार फिर चार चाँद लगाने के लिए भोपाल पदस्थ कर रही है .... सवाल यह भी उठ रहे है कि, सरकार के मंत्री जी इनको भोपाल पदस्थ करके, कितना अधिक राजस्व (सरकार के लिए) प्राप्त कर लेंगे...या दागी को फिल्ड में पदस्थ करने की, सरकार के आगे कोई बड़ी मजबूरी है ... , वर्तमान में भी फर्जीवाड़े की राशि वसूलने सहित सरकार के लिए बार-बार मुसीबत खड़ी करने वाले अफसर को भोपाल पदस्थ करने के पीछे, सरकार की क्या बड़ी मजबूरी है, ये सवाल जनता के मन में उठ रहा है....खबर अभी जारी है...