भू-माफिया गैंगस्टर मांगीलाल का हमराज राजेश एसटीएफ की गिरफ्त में,जबलपुर जेल से किया गिरफ्तार
कुख्यात गैंगस्टर मांगीलाल ठाकुर का हमराज पार्टनर एसटीएफ की गिरफ्त में

महू क्षेत्र के कुख्यात गैंगस्टर मांगीलाल ठाकुर का हमराज केस पार्टनर राजेश ठाकुर को एसटीएफ ने जबलपुर जेल से गिरफ्त में लिया है। पुलिस अधीक्षक एसटीएफ पद्मविलोचन शुक्ल इंदौर ने बताया कि एसटीएफ  टीम के उप निरीक्षक श्याम किशोर त्रिपाठी और ASI अमित दीक्षित द्वारा केंद्रीय जेल जबलपुर में निरुद्ध गैंगस्टर मांगीलाल ठाकुर के केस पार्टनर राजेश सिंह ठाकुर पिता शेर सिंह ठाकुर निवासी ग्राम पानंदा को न्यायालय की अनुमति उपरांत शुक्रवार को औपचारिक तौर पर गिरफ्तार किया गया है।

 बताया गया कि आरोपी राजेश द्वारा अपने रिश्तेदार रामचंद्र और भगवान सिंह की ग्राम पानदा की भूमि जिसे उनके द्वारा पूर्व में गोल्डन फॉरेस्ट इंडिया लिमिटेड को बेच दिया गया था पुनः उसी भूमि के कूट रचित दस्तावेज तैयार कर स्वयं का अधिपत्य और स्वामित्व दर्शाते हुए आरोपिया शिवकन्या बाई निवासी ग्राम पानंदा को बेचने में गवाह के तौर पर हस्ताक्षर किए थे।उल्लेखनीय है इस प्रकरण में पूर्व में एसटीएफ द्वारा आरोपी गोपाल आंजना को गिरफ्तार किया गया था जो इस भूमि के विक्रेता और प्रकरण के आरोपी भगवान सिंह का पुत्र है जबकि आरोपी राजेश सिंह ठाकुर क्रेता शिवकन्या बाई का भतीजा  है। उल्लेखनीय है कि गोल्डन फॉरेस्ट इंडिया लिमिटेड की भूमि के क्रय विक्रय पर माननीय उच्चतम न्यायालय द्वारा रोक लगाई गई है जब आरोपियों को भान हुआ कि गोल्डन फॉरेस्ट इंडिया लिमिटेड के सभी डायरेक्टर सेबी और न्यायालय की कार्रवाई में जेल में बंद है और उनके द्वारा बेची गई जमीन का कोई रखवाला नहीं है उनके द्वारा कूट रचित दस्तावेज तैयार कर पूर्व में बेची गई जमीन को लगभग ₹7000000 में विक्रय  किया जाकर अवैध धन अर्जित किया गया।आरोपी राजेश सिंह ठाकुर महू के बहुचर्चित योगेश गर्ग हत्याकांड में केंद्रीय जेल जबलपुर में निरुद्ध है प्रकरण की विवेचना में दस्तावेजी साक्ष्य के आधार पर तत्कालीन राजस्व अधिकारियों की संदिग्ध भूमिका भी एसटीएफ के संज्ञान में आई है शीघ्र ही उनके विरुद्ध भी प्रभावी कार्रवाई की जाएगी