अपने हित आगे रखते हैं ट्रंप, कैसे होंगे संतुलित द्विपक्षीय करार : दिग्विजय

 दिल्ली . अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने शनिवार को अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर कहा अब देखते हैं पीएम नरेंद्र मोदी के परम मित्र डोनाल्ड ट्रंप क्या शिक्षा दे कर जाते हैं. भारत की आर्थिक नीतियों का तो वह विरोध कर चुके हैं.


मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि डोनाल्ड ट्रंप की नीति हमेशा से ही अमेरिका फर्स्ट की रही है. ऐसे में भारतीय हितों के लिहाज से बराबरी से करार करना पीएम नरेंद्र मोदी की के लिए बड़ी चुनौती साबित होगी. उल्लेखनीय है कि ट्रंप अपनी पत्नी मेलानिया ट्रंप के साथ 24-25 फरवरी को भारत यात्रा पर आ रहे हैं. ट्रंप अपनी पत्नी मेलानिया ट्रंप और एक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल के साथ 24 फरवरी की दोपहर अहमदाबाद पहुंचेंगे. ट्रंप की बेटी इवांका और दामाद जेरेड कुशनेर भी प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा होंगे.


राष्ट्रीय राजधानी की यात्रा के लिए रवाना होने से पहले ट्रंप अहमदाबाद से आगरा की यात्रा पर जाएंगे. इससे पहले शुक्रवार को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि ऊंचे शुल्क के साथ भारत कई सालों से अमेरिका के व्यापार को 'बुरी तरह प्रभावित' कर रहा है. अपनी पहली भारत यात्रा के दौरान वह इस संबंध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात करेंगे.


ट्रंप ने गुरुवार को कोलराडो में 'कीप अमेरिका ग्रेट' रैली में कहा था मैं अगले सप्ताह भारत जा रहा हूं और हम व्यापार पर बात करने वाले हैं. वे हमें कई सालों से बहुत बुरी तरह प्रभावित कर रहे हैं. ट्रंप ने अपने हजारों समर्थकों के सामने कहा था कि वह 'वास्तव में' मोदी को 'पसंद' करते हैं और वे आपस में व्यापार पर बातचीत करेंगे.